World Asthma Day 2020: अस्थमा मरीजोंं के लिए जानलेवा हो सकता है कोरोना, इन आठ उपाए से करें बचाव

विश्व अस्थमा दिवस 2020 आज
अस्थमा या अन्य सांस के मरीजों को अधिक सावधानी बरतने की जरूरत

By: Mahendra Pratap

Published: 05 May 2020, 02:25 PM IST

सुचिता मिश्रा

आगरा. इन दिनों आगरा उत्तर प्रदेश का 'वुहान' बना हुआ है। यहां कोरोना के मामले प्रदेश में सबसे ज्यादा हैं और लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वर्तमान में संक्रमितों का आंकड़ा 628 पहुंच चुका है। कोरोना एक ऐसी समस्या है जो व्यक्ति के फेफड़ों पर अटैक करती है। सूखी खांसी, सांस लेने में तकलीफ और बुखार इसके प्रमुख लक्षण हैं। यही कारण है कि सांस व फेफड़ों से जुड़ी बीमारी के मरीजों को ऐसे समय खासतौर पर एहतियात बरतने की सलाह दी गई है। आज विश्व अस्थमा दिवस (World Asthma Day) के मौके पर जानते हैं कि अस्थमा या अन्य सांस के मरीजों को कोरोना से बचाव के लिए किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

पहले समझिए क्या है अस्थमा :- अस्थमा फेफड़ों का लाइलाज का रोग है। इसमें वायुमार्ग में सूजन आने के कारण सांस लेने में तकलीफ होती है। कई बार सूजन बढ़ जाने से व्यक्ति को अस्थमा के अटैक पड़ने लगते हैं। ऐसे में उसे तत्काल इन्हेलर लेने की जरूरत होती है। भारत में 10 में से एक व्यक्ति अस्थमा से प्रभावित है। अस्थमा को ठीक नहीं किया जा सकता, लेकिन नियंत्रित जरूर किया जा सकता है। परहेज, समय पर दवाओं का सेवन व डॉक्टर के निर्देशों का पालन करके अस्थमा का मरीज भी सामान्य जीवन जी सकता है।

अस्थमा मरीजोंं के लिए इसलिए अधिक घातक है कोरोना:- श्वास रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुकूल जैन के मुताबिक कोरोना के इस दहशत भरे माहौल में अस्थमा या अन्य सांस के मरीजों को अन्य लोगों की तुलना में अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। दरअसल कोरोना वायरस का संक्रमण रेस्पिरेटरी सिस्टम को नुकसान पहुंचाता है और अस्थमा भी रेस्पिरेटरी सिस्टम से जुड़ी हुई एक बीमारी है। यदि अस्थमा का मरीज या फेफड़ों से जुड़ी किसी अन्य बीमारी का मरीज कोरोना की चपेट में आ जाए तो उसके लिए कोरोना काफी गंभीर स्थिति पैदा कर सकता है। यहां तक कि स्थिति जानलेवा भी साबित हो सकती है।

इन बातों का रखें खयाल :-
1. घर से बाहर निकलने से पूरी तरह बचें। यदि मजबूरन निकलना पड़े तो सरकार की गाइडलाइन का ईमानदारी से पालन करें।
2. गुनगुने पानी और काढ़े का सेवन करें।
3. बाहर से आयी किसी भी वस्तु का उपयोग अच्छे से धोकर करें। अपने हाथों को अच्छी तरह से साबुन या हैंडवॉश से धोएं।
4. अस्थमा की दवा समय पर लें और इनहेलर हमेशा साथ रखें।
5. सिगरेट,सिगार आदि लेने से परहेज करें, इसके धुएं से भी बचें।
6. विटामिन सी और डी युक्त पदार्थों समेत ऐसी चीजों का सेवन करें जो इम्युनिटी मजबूत करने में कारगर हों।
7. फेफड़े को मजबूत बनाने के लिए प्राणायाम करें।
8. बारिश के मौसम में विशेष सावधानी बरतें।

coronavirus
Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned