अपराधियों के सामने योगी सरकार व पुलिस बौना साबित हो रही- कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अयज लल्लू

सरकार और पुलिस अपराधियों के सामने आत्मसमर्पण कर चुकी है- कांग्रेस यूपी अध्यक्ष

By: Abhishek Gupta

Updated: 06 Jan 2021, 06:23 PM IST

लखनऊ. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) ने योगी सरकार और पुलिस पर हमला करते हुए कहा कि अपराधियों के सामने वे बौना साबित हो रहे हैं। सरकार और पुलिस अपराधियों के सामने आत्मसमर्पण कर चुकी है। सरकार और पुलिस प्रशासन के अकर्मण्यता का आलम यह है कि अपराधी सरेआम हत्या को अंजाम देकर फरार हो रहे हैं और पुलिस अपराधियों का सुराग लगा पाने में भी विफल साबित हो रही है। योगी राज में उत्तर प्रदेश अपराध प्रदेश बन गया है।

ये भी पढ़ें- सिगरेट पीने की अब न्यूनतम उम्र होगी 21, फुटकर बिक्री पर लगेगी रोक

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज में इंद्रजीत खेड़ा के पूर्व प्रधान एवं वर्तमान प्रधान संध्या पाण्डेय के पति व व्यापारी नेता सुजीत पाण्डेय की दिनदहाड़े हुई हत्या से लोग उबरे ही नहीं थे कि अम्बेडकरनगर के राजेसुल्तानपुर थाना क्षेत्र के मल्लूपुर मजगवा में प्रधान प्रतिनिधि अनिल मिश्र एवं उनके भाई सुरेन्द्र मिश्र की हुई निर्मम हत्या से पुलिस और सरकार के इकबाल पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है।

ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीनेशन: सीएम योगी का सख्त निर्देश, कोई कितना भी प्रभावशाली हो, क्रम के अनुसार ही लगेगा टीका

सरकार को खोखले दावे उजागर-

प्रदेश कॉंग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक तरफ जहां मुख्यमंत्री जी रोजाना टीम-11 की मीटिंग और हर मंचों पर उत्तर प्रदेश को अपराध मुक्त बताते नहीं थकते, वहीं राजधानी सहित प्रदेश भर में हो रही जघन्य घटनाओं ने भारतीय जनता पार्टी सरकार के ‘‘न गुण्डाराज, न भ्रष्टाचार’’ के खोखले दावे को उजागर कर दिया है।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि राजधानी के मोहनलालगंज की घटना के बाद जहां सिलसिलेवार घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अभी ताजा घटनाओं में गोसाईंगंज में शोहदों की धमकी व बाद में महिला की हत्या कर दी गयी। बख्शी का तालाब में दबंगों की पिटाई के बाद महिला ने आत्महत्या कर ली। तालकटोरा थानान्तर्गत दबंगों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दिलदहलाने की घटना को अंजाम दिया। विभूतिखण्ड गोमतीनगर में अभियन्ता के घर में लाखों की डकैती पड़ी। इतना ही नहीं गाजीपुर जनपद के गोदसइया में दिनदहाड़े हत्या कर दी गयी। जौनपुर के शाहगंज में बालक का अपहरण अपराधियों द्वारा कर लिया गया। सीतापुर में महिला को जिन्दा जला दिया गया। कानपुर में पुलिस पर पथराव व अमरोहा में पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग के साथ साथ योगी सरकार के दो-दो आईपीएस अधिकारियों को पचास-पचास हजार का इनामियां घोषित होना योगी सरकार के भ्रष्ट तन्त्र और ध्वस्त कानून व्यवस्था का जीता-जागता प्रमाण है। प्रदेश के अपराधमुक्त होने के बड़े-बड़े दावों पर प्रदेश की जनता कैसे विश्वास करे यह यक्ष प्रश्न बन चुका है।

Congress BJP
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned