अखिलेश बोले अगर योगी कर लेते ये काम तो बहुत होता उनका नाम

अखिलेश बोले अगर योगी कर लेते ये काम तो बहुत होता उनका नाम
akhilesh says if Yogi did this work than may be better

Anil Ankur | Updated: 12 Jun 2019, 09:51:22 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

अखिलेश बोले अगर योगी कर लेते ये काम तो बहुत होता उनका नाम

 

लखनऊ . समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज जहां उपस्थित कार्यकर्ताओं को उपचुनावों के साथ सन् 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अभी से तैयारियों में जुट जाने का आह्वान किया वहीं दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं के साथ संवाद के क्रम में पर्यावरण सरंक्षण, अवैध खनन और किसान-गांव के बारे में भी अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि अगर योगी सरकार चुनाव में कुछ और अच्छे काम कर लेती तो उनका नाम होता।

 

 

यादव ने समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि वे सन् 2022 की सरकार में जनता की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में जनसंवाद स्थापित करें। भाजपा सरकार में किसान और नौजवान सबसे ज्यादा परेशान रहे हैं। नौजवानों का भविष्य अंधकार में है जबकि किसानों को झूठे वादो से गुमराह किया है। गांव-गांव में उत्पीड़न की कार्यवाही की जा रही है। किसानों के बिजली के बिल बढ़ाए जा रहे हैं। एक्सप्रेस-वे पर टैक्स और शराब पर सेस लगा है लेकिन गायों की रक्षा नहीं हो रही है। गौशालाओं में गायें मर रही है।

अखिलेश यादव ने कहा घर-घर तक सच पहुंचना चाहिए। भाजपा सरकारें केन्द्र की हों या राज्य की, हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। जनता का हर वर्ग परेशानी में है। सन् 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर फिर से विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर बना रही है और उनपर आरएसएस की विचारधारा थोप रही है। नोटबंदी जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। छोटे कारोबारी पूरी तरह तबाह हो गये।

अखिलेश यादव से मिलने आए दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने कहा कि उन्होंने लखनऊ में डाॅ0 लोहिया पार्क और जनेश्वर मिश्र पार्क देखा और पाया कि पूर्व मुख्यमंत्री जी तथा समाजवादी पर्यावरण के प्रति संवेदनशील है। कुछ युवाओं ने बेरोजगारी का सवाल उठाया और कहा कि भाजपा सरकार में उनके लिए रोजगार के रास्ते बंद हो गए हैं। वहीं बांदा, हमीरपुर में अवैध खनन पर भी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि खनन माफियाओं ने भाजपा सरकार में आतंक मचा रखा है। उन्होंने नदियों की दशा पर चिंता जताई और कहा कि समाजवादी सरकार में गोमती नदी तथा वरूणा नदी को निर्मल बनाने की दिशा में काम हुआ था। गोमती नदी पर रिवरफ्रंट जैसा मनोरमस्थल भी बना था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned