सीएम योगी के बयान पर अखिलेश का पलटवार, बताया क्या है राजधर्म

सीएम योगी के बयान पर अखिलेश का पलटवार, बताया क्या है राजधर्म

Abhishek Gupta | Publish: Sep, 08 2018 04:04:42 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव यूपी ने सीएम योगी द्वारा शुक्रवार को पर किए गए हमले पर पलवार किया है और उन्हें राजधर्म का पाठ पढ़ाया है।

लखनऊ. समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव यूपी ने सीएम योगी द्वारा शुक्रवार को उनपर किए गए हमले पर पलवार किया है और उन्हें राजधर्म का पाठ पढ़ाया है। आपको बता दें कि सीएम योगी ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान अखिलेश यादव पर चाचा शिवपाल और पिता मुलायम से दुर्वव्यहार का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि जिसने अपने पिता और चाचा को कैद कर दिया था, जो अपने पिता और चाचा का नहीं हुआ, वह आप सबका कैसे हो सकता है? वह आज आप सबको खुद से जोड़ने की बात कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि इतिहास में एक चरित्र है, जिसने अपने पिता को जेल में डाल दिया था। इसी वजह से कि कोई भी मुसलमान अपने पुत्र का नाम औरंगजेब नहीं रखता है। सपा के साथ भी कुछ ऐसी ही है।

अखिलेश यादव ने किया पलटवार-

शनिवार को इस पर पलटवार करते हुए सपा मुखिया अखिलेश ने सीएम योगी को बताया कि सच्चा राजधर्म क्या है। उन्होंने उन्नाव गैंगरेप कांड का भी जिक्र किया जिसमें पीड़िता की पिता की हत्या कर दी गई थी। अखिलेश यादव ने कहा, "मुख्यमंत्री के लिए हर पिता ‘पितातुल्य’ होना चाहिए, उन्नाव की बलात्कार-पीड़िता का वो बेबस पिता भी जिसको उनकी पुलिस ने मार-मार कर मार डाला। इसी प्रकार हर पुत्री ‘पुत्रीतुल्य’ होनी चाहिए, वो पुत्री भी जिसे काला झंडा दिखाने पर जेल की काल कोठरी में डाला गया। यही सच्चा राजधर्म है।"

भाजपा उठा रही फायदा!

साफ तौर पर समाजवादी पार्टी में छिड़ी जंग को सियासी रूप देने में लग गई है। इससे पहले केशव प्रसाद मौर्या, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडे, नरेश अग्रवाल जैसे कई दिगग्ज शिवपाल के पक्ष में बयान दे चुके हैं। इससे यह भी अटकलें निकाली जा रही हैं कि शिवपाल का रुख भाजपा के प्रति नम्र हो सकता है। शिवपाल हाल ही में बिना उनकी मदद के सरकार न बनने का ऐलान कर चुके है। ऐसे में यह संभव है कि भाजपा भी उनके विकल्प में शामिल हैं।

Ad Block is Banned