अखिलेश यादव ने निभाया अपना वादा, यहां के सभी उम्मीदवारों को पर्चा भरने से रोका!

अखिलेश ने अपने पैगाम में कहा कि जब तक अगली सूचना न मिले, तब तक आप लोग नामांकन न करें और इंतजार करें।

लखनऊ. सपा-कांग्रेस गठबंधन के तहत अखिलेश यादव और राहुल गांधी ने एक साथ रोडशो करके अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को स्‍पष्‍ट कर दिया है कि अब एक साथ दोनों पार्टियां गठबंधन के बाद चुनाव लड़ने जा रही हैं। इसी गठबंधन को और मजबूत करने और यूपी के सिंहासन पर कब्जा करने के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लगातार प्रयास कर रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने प्रियंका से अपना किया वादा निभाते हुए रायबरेली और अमेठी के सपा उम्मीदवारों को पर्चा भरने से रोक दिया। उन्होंने अपने स्थानीय नेताओं और उम्मीदवारों से कहा है कि अभी कांग्रेस से बातचीत चल रही है, गठबंधन को मजबूत बनाने में अपना सहयोग दें।


अमेठी रायबरेली में रोका नामांकन

अखिलेश ने अमेठी रायबरेली के अपने उम्मीदवारों से कहा है कि अभी वह नामांकन दाखिल ना करें। यूपी में सांप्रदायिक ताकतों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए हमने कांग्रेस से गठबंधन किया है। इस गठबंधन को मजबूत करने के लिए कुछ अहम और सख्त फैसले लेने पड़ रहे हैं। अखिलेश ने अपने पैगाम में कहा कि जब तक कोई अगली सूचना न मिले, तब तक आप लोग नामांकन न करें और इंतजार करें।


प्रियंका ने याद दिलाया वादा

दलअसल प्रियंका गांधी ने अखिलेश यादव को वह वादा याद दिलाया, जो गठबंधन के वक्त किया गया था। प्रियंका ने अखिलेश से कहा था कि आपके लिए हमने आजमगढ़, एटा, मैनपुरी, इटावा की सारी सीटें छोड़ दी हैं, जो समाजवादी पार्टी का गढ़ था। अब आप हमारे लिए अमेठी रायबरेली की सारी छोड़ दें, आपने सभी 10 सीटें देने का वादा किया था, उम्मीद है आप अपना वादा निभाएंगे।


अखिलेश निभाएंगे वादा

खबरों के मुताबिक अखिलेश यादव ने प्रियंका यादव को वादा निभाने का आश्वासन दिया है। अखिलेश के इस बयान के बाद रायबरेली और अमेठी की सीटों पर नामांकन रुकवा दिया गया है। सपा उम्मीदवारों से कहा गया है कि अगले फैसले का आप सब इंतजार करें।


रायबरेली और अमेठी में 11 सीटें

रायबरेली जिले में 6 विधानसभा सीटें (बछरावां (सुरक्षित), हरचंदपुर, रायबरेली, सलोन (सुरक्षित), सरेनी और ऊंचाहार) हैं। रायबरेली जिले में चौथे चरण में 23 फरवरी को मतदान होने हैं। जबकि अमेठी जिले में 5 विधानसभा सीटें (अमेठी, गौरीगंज, जगदीशपुर (सुरक्षित), सलोन (सुरक्षित) और तिलोई) हैं। यहां पांचवे चरण में 27 फरवरी को मतदान होने हैं।


नामांकम के आखिरी दिन काटा टिकट

आपको बता दें कि तीसरे चरण के लिए नामांकन के आखिरी दिन मंगलवार को अखिलेश ने बाराबंकी की जैदपुर सीट और लखनऊ में लखनऊ मध्य सीट कांग्रेस को दी। इन दोनों ही सीटों पर सपा के सिटिंग विधायक थे। जैदपुर विधानसभा सीट से राम गोपाल रावत विधायक थे। उन्हें नामांकन दाखिल करते वक्त फोन करके पर्चा जमा करने से रोका गया। जिसके बाद यहां से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. एल. पुनिया के बेटे तनुज पुनिया ने नामांकन दाखिल किया। वहीं लखनऊ मध्य सीट से सपा विधायक रविदास मेहरोत्रा का टिकट काटकर कांग्रेस नेता मारुफ खान को दिया गया।
Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned