ट्विटर अकाउंट संस्पेंड करने की उठी मांग तो अखिलेश यादव ने डिलीट किया अपना यह ट्वीट

अखिलेश यादव ने शनिवार को एक व्यक्ति का व्हॉट्सऐप मैजेस अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर साझा किया था.

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने धमकी देने वाली शख्स की निजि जानकारी साझा करने वाले ट्वीट को डिलीट कर दिया है। अखिलेश यादव ने शनिवार को एक व्यक्ति का व्हॉट्सऐप मैजेस अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर साझा किया था, जिसमें शख्स 'भाजपा जिंदाबाद' के मैसेज कर अखिलेश से अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहा था। ट्वीट में उस शख्स का नंबर भी सार्वजनिक हो गया, जिसके बाद से सपा अध्यक्ष को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया गया व उनके ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड करने की मांग भी की गई।

ये भी पढ़ें- अखिलेश यादव को मिली जान से मारने की धमकी, सभा में घुसा शख्स, सपा अध्यक्ष ने कहा यह

ट्वीट में यह भी लिखा था-

यह देख अखिलेश यादव ने वह ट्वीट तो डिलीट कर दिया, लेकिन साथ में लिखे अपने बयान पर वह टिके रहे जिसमें उन्होंने लिखा था "देश की राजनीति व्यक्तिगत धमकियों से होती हुई सार्वजनिक मंचों पर षड्यंत्रकारियों तक को भेजकर राजनेताओं को बदनाम करने की साज़िश के निकृष्टतम दौर से गुजर रही है, लेकिन आज की समझदार जनता सब समझकर सत्ताधारियों के झाँसे में नहीं आनेवाली बल्कि सत्ता का विरोध करनेवालों के साथ खड़ी है।"

ये भी पढ़ें- 'यश भारती' के बंद किए जाने पर अखिलेश यादव का आया बड़ा बयान, किया यह ऐलान

कन्नौज में किया था ऐलान-

कन्नौज की सभा में एक शख्स द्वारा जय श्री राम के नारे लगाने वाले को भाजपा का कार्यकर्ता बता कर अपनी जान को खतरे का अंदेशा लगाने के बाद अखिलेश यादव ने खुलासा किया था कि उन्हें मैसेज के जरिए भी जान से मारने की धमकी दी गई थी, जिसके लेकर वह जल्द ही प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। इसके बाद शाम को अखिलेश ने एक शख्स का मैसेज सार्वजनिक कर दिया था।

Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned