अखिलेश ने अब दिए संकेत- डिंपल लड़ सकती हैं चुनाव

अखिलेश ने अब दिए संकेत- डिंपल लड़ सकती हैं चुनाव

Prashant Srivastava | Publish: Sep, 02 2018 02:54:07 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

यूपी के पूर्व सीएम व सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अब संकेत दिए हैं कि डिंपल यादव 2019 लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं।

लखनऊ. यूपी के पूर्व सीएम व सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अब संकेत दिए हैं कि डिंपल यादव 2019 लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं। एक निजी चैनल के कार्यक्रम में एक दर्शक के सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा कि अगर लोग चाहते हैं तो डिंपल को चुनाव लड़ा सकते हैं। हालांकि अखिलेश ने ये साफ नहीं किया डिंपल यादव किसी सीट लड़ेंगी क्योंकि इस बार कन्नौज से अखिलेश खुद चुनावी मैदान में उतरने की घोषणा कर चुके हैं।

रणनीति के बदलाव के मूड में अखिलेश!

फिलहाल कन्नौज की सीट से डिंपल यादव सांसद है लेकिन पिछले साल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान परिवारवाद के सवाल पर अखिलेश ने कहा था कि डिंपल इस बार चुनाव नहीं लड़ेंगी। इसके बाद से ही संभावना जताई जा रही थी कि इस बार अखिलेश कन्नौज से चुनाव लड़ेंगे। डिंपल केवल पार्टी का प्रचार करेंगी लेकिन चुनाव नहीं लड़ेंगी लेकिन बदले समीकरणों को ध्यान में रखते हुए दोनों चुनावी मैदान में उतर सकते हैं। वहीं कुछ सूत्रों को ये भी कहना है कि अखिलेश का कन्नौज से लड़ना अभी तय नहीं है। चूंकि 2022 में अखिलेश ही सपा के सीएम उम्मीदवार होंगे, ऐसे में वह तीन साल के लिए लोकसभा जाने से बेहतर पार्टी के प्रचार पर फोकस करेंगे।

जानें क्या बोले अखिलेश

इस कार्यक्रम के दौरान अखिलेश बोले अब बीजेपी पर 70 सीट बची हैं। जनता वोट डालने का इंतजार कर रही है। महागठबंधन का इंतजार मत कीजिए। जनता इनके खिलाफ वोट डालने की तैयारी कर रही है। हम अपनी रणनीति क्यों बतायें और अगर बता देंगे तो हार जाएंगे। जैसे कैराना, फूलपुर और गोरखपुर में किया, वही रणनीति तैयार की है। महागठबंधन का चेहरा या प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा, यह पूछने पर उन्होंने कहा, देश नये प्रधानमंत्री का इंतजार कर रही है। हमें भाजपा बता दे कि उनका प्रधानमंत्री कौन होगा। देश नये प्रधानमंत्री के इंतजार में है। अगर भाजपा के पास कोई नया प्रधानमंत्री नहीं है तो आप हमसे क्यों पूछते हैं।

प्रधानमंत्री उम्मीदवार से इंकार


कार्यक्रम के दौरान जब उनसे पूछ गया कि क्या उन्हें भावी प्रधानमंत्री के रूप में देखा जाए, यादव ने कहा कि वह इतना बडा सपना नहीं देखते। बसपा प्रमुख मायावती का हाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि आज पूरा देश बुआ (मायावती) का हाल पूछ रहा है। जिसके साथ समाजवादी लोग होंगे, उन सभी का हाल अच्छा होगा। एक सवाल के जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि महागठबंधन का प्रश्न भाजपा से नहीं करना चाहिए, इस सवाल का जवाब गोरखपुर, फूलपुर और कैराना की जनता ने दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग सिर्फ जातिवाद की बात करते हैं। जबकि हम मेट्रो और लैपटॉप की बात करते हैं। जब हम उत्तर प्रदेश के विकास की बात करते हैं तो वह कब्रिस्तान और दिवाली की बात करते हैं लेकिन अब इनको काम बताना होगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned