पंचायत चुनाव से पहले सभी बंदूकधारियों को जमा करने होंगे शस्त्र लाइसेंस, नहीं तो होगी कड़ी कार्रवाई

- सभी बन्दूकधारियों को अपने क्षेत्रीय थाने में जाकर जमा करना होगा असलहा
- पंचायत चुनाव के मद्देनजर शस्त्र लाइसेंस जमा कराने की प्रक्रिया जल्द हो सकती है शुरू

By: Neeraj Patel

Updated: 04 Jan 2021, 08:28 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. पंचायत चुनाव 2021 (Panchayat Chunav 2021) के पहले प्रदेश के सभी बन्दूकधारियों को असलहा/गन लाइसेंस (Gun License in UP) अपने ही क्षेत्रीय थाने में जमा करने होंगे। जिसकी प्रक्रिया जल्द ही शुरू होने वाली है। गन लाइसेंस (Gun License) के मालिकों को खुद अपने क्षेत्रीय थाने में जाकर असलहा जमा करना होगा। इसके बावजूद अगर कोई थाने में गन जमा नहीं करती हैै तो उसके खिलाफ पुलिस प्रशासन एक्शन लेकर कड़ी कार्रवाई कर सकता है।

उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव के मद्देनजर शस्त्र लाइसेंस जमा कराने की प्रक्रिया प्रशासन द्वारा जल्द ही शुरू हो सकती है। बता दें कि कुछ गन लाइसेंस होल्डरों द्वारा पंचायत चुनाव में असलहों को लेकर मतदाताओं के साथ रौब गालिब कर सकते हैं। इस प्रकार की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए पंचायत चुनाव से पहले गन लाइसेंस जमा कराए जाएंगे। गन लाइसेंस जमा करने के लिए कभी भी प्रशासन द्वारा निर्देश जारी किया जा सकता है। इसलिए गन लाइसेंस होल्डर अभी से असलहा जमा करने के लिए तैयार हो जाएं।

ये भी पढ़ें - पंचायत चुनाव की घोषणा होते ही लागू हो जाएगी आचार संहिता, जानें क्या हैं आचार संहिता के नियम

जानें कहां जमा होंगे असलहा/गन लाइसेंस

यूपी में होने वाले पंचायत चुनाव से पहले जिले के हर क्षेत्रीय थाने में गन लाइसेंस होल्डरों (Gun License Holder) के साथ बैठक की जा सकती है और पंचायत इलेक्शन से पहले बन्दूक धारियों को अपनी गन जमा करने के लिए कहा जाएगा। जिसके बाद लाइसेंस धारकों को गन हाउसेस या थाने में गन जमा करना होगा। बता दें कि जो लोग अपने क्षेत्रीय गन हाउसेस या थाने में असलहे जमा नहीं करेंगा तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned