अयोध्या केसः मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक पर मंत्री मोहसिन रजा का आया बड़ा बयान

अयोध्या केसः मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक पर मंत्री मोहसिन रजा का आया बड़ा बयान
Ayodhya case

Abhishek Gupta | Updated: 12 Oct 2019, 04:47:33 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक
- राम मंदिर, ट्रिपल तलाक, समान नागरिक संहिता पर चर्च
- मोहसिन रजा ने जताया विरोध

लखनऊ. अयोध्या मामले में सुनवाई के बीच राजधानी लखनऊ के नदवा कॉलेज में ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक हुई जिसमें भरोसा जाहिर किया गया कि फैसला बाबरी मस्जिद के पक्ष में आएगा। बैठक में जमीअत उलमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी, मौलाना महमूद मदनी, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद, सचिव जफरयाब जिलानी, मौलाना नदवी, मौलाना खालिद सैफुल्लाह रहमान व मौलाना अजीज सटकली, महासचिव मौलाना वली रहमानी, मौजूद रहे। बैठक में समान नागरिक संहिता व ट्रिपल तलाक जैसे मुद्दों पर भी विचार-विमर्श किया गया। इधर एकाएक बुलाई गई इस बैठक का यूपी कैबिनेट मंत्री मोहसिन रजा ने विरोध किया और एआईएमपीएलबी को आतंकवाद समर्थक बताया गया। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले में सुनवाई की आखिरी तारीख 17 अक्टूबर तय की है। उससे पहले यह बैठक बेहद अहम मानी जा रही है।

ये भी पढ़ें- कांग्रेस नेता की दिनदहाड़े हत्या पर प्रियंका गांधी वाड्रा का फूंटा गुस्सा, आया बहुत बड़ा बयान

बोर्ड ने कहा कि समान नागरिक संहिता न सिर्फ मुसलमानों के लिए बल्कि अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों तथा अनेक अन्य समुदायों के लिए बड़ी दिक्कतें पैदा करेगी। बोर्ड ने कहा कि समान नागरिक संहिता न सिर्फ मुसलमानों के लिए बल्कि अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों तथा अनेक अन्य समुदायों के लिए बड़ी दिक्कतें पैदा करेगी। बता दें कि मीडिया को इस बैठक से सख्‍ती से दूर रखा गया था। सूत्रों की मानें तो बैठक में अयोध्या मामले में बाबरी मस्जिद के पक्ष रखने वाले वकीलों की तारीफ कि गई है। वकीलों के काम को सराहा गया और कहा कि मुस्लिम पक्ष के पास मजबूत दलीले हैं और भरोसा है कि कोर्ट का फैसला उनके पक्ष में ही आएगा।

ये भी पढ़ें- झांसी एनकाउंटर: अखिलेश यादव से पुष्पेंद्र की पत्नी ने रोते हुए कहा यह, आक्रोशित सपा अध्यक्ष ने दिया बड़ा बयान

Muslim Personal Law Board

पर्सनल लॉ बोर्ड आतंकवाद समर्थक - मोहसिन रजा
शनिवार को हुई इस बैठक पर अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने कड़ा विरोध जताया। उन्होंने कहा कि पर्सनल लॉ बोर्ड आतंकवाद समर्थक हैं। जांच करवाई जाएगी कि आखिर इन्हें फंडिंग कौन कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह बैठक ऐसे समय पर बुलाई गई है, जब सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर पर फैसला देने वाला है। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि इस समय एक असंवैधानिक एनजीओ जो हमेशा से देश के खिलाफ काम करता रहा है, हमेशा आतंकवाद के समर्थन में बोलता रहा है, एनआरसी और तीन तलाक कानून के खिलाफ बोलता रहा है। उसने अचानक यह बैठक क्यों बुलाई है?'

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned