अमेठी में किसानों की समस्याओं को लेकर कांग्रेसियों का जबरदस्त प्रदर्शन

किसानों की समस्याओं को लेकर अमेठी जिले के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया।

अमेठी . किसानों की समस्याओं को लेकर अमेठी जिले के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। उसके बाद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव को सौंपा।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी के विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह, जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल की अगुवाई में सैंकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता कांग्रेस कार्यालय से हाथों में पार्टी का झंडा लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने जमकर नारेबाजी की। फिर सभी कांग्रेसी कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट परिसर में धरने पर बैठ गए। तत्पश्चात जिलाधिकारी के मार्फत अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव ने पहुंचकर जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल से ज्ञापन लिया और जिलाधिकारी महोदय के माध्यम से महामहिम राज्यपाल तक पहुंचाए जाने के लिए आश्वस्त किया।

इस ज्ञापन में जिलाध्यक्ष ने महामहिम राज्यपाल से मांग करते हुए कहा है कि जनपद का किसान बिजली पानी खाद तथा निरंतर बढ़ती महंगाई से पहले ही परेशान है। फसल की उपज का पर्याप्त संसाधन न प्राप्त होने और आवारा पशुओं के कारण लगातार लागत लगाने के बाद भी पूरी फसल नहीं प्राप्त हो रही है। जिस वजह से किसान आर्थिक संकटों से गिरा हुआ है। वर्तमान समय में पराली और गन्ना किसानों ने शासन प्रशासन से उचित समाधान की अपेक्षा की है। जिसमें सर्वप्रथम यह है कि वर्तमान समय में किसान आर्थिक संकटों से घिरा हुआ है। इसके बावजूद किसानों पर पराली संकट बना हुआ है। जिसे जलाने के अलावा उसके पास अन्य कोई उपाय नहीं है। पराली की समस्या से निजात के लिए किसानों से पराली खरीदने का मार्ग सरकार द्वारा प्रशस्त किया जाए। जिले में पराली जलाने वाले जिन किसानों पर मुकदमे दर्ज हुए हैं। उन मुकदमों को सरकार वापस ले और जिन किसानों को जेल हुई है उन्हें रिहा किया जाए तथा जुर्माना माफ किया जाए।

दूसरा गन्ने का समर्थन मूल्य 450 रुपए प्रति कुंतल किया जाए और किसानों का बकाया भुगतान अति शीघ्र कराया जाए। यदि हम कांग्रेसियों की यह मांगे नहीं पूरी की जाती हैं। और समस्या का समाधान नहीं किया जाता है तो आने वाले समय में व्यापक आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

Mahendra Pratap
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned