आरोग्य मेलाः 36.5 लाख ने लिया स्वास्थ्य लाभ,पढ़िए पूरी खबर

• अब तक प्रदेश में नौ आरोग्य मेले लगाए गए
• 86,172 गंभीर रोगियों को उच्च केंद्रों में ईलाज के लिए भेजा गया
• 2,78,707 गोल्डन कार्ड बनाए गए

By: Ritesh Singh

Published: 21 Jan 2021, 08:26 PM IST

लखनऊ, प्रदेश सरकार द्वारा एक साल पहले शुरू किया गया आरोग्य मेला, देश का पहला ऐसा मेला है। जिसमें अब तक 36,66,324 रोगियों का इलाज किया गया है। इसमें न सिर्फ लोगों को इलाज मिल रहा है, बल्कि उन्हें जांच की सुविधाओं के साथ निशुल्क दवाईयां भी मिल रही हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल मुख्यमंत्री आरोग्य मेले की शुरूआत की थी। इस दौरान सात मेले लगे थे, जिसमें 31 लाख 36 हजार लोगों का उपचार किया गया और चिह्नित 32,425 कुपोषित बच्चों को विभिन्न योजनाओं के तहत पोषित भी बनाया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक 76,063 रोगियों को बेहतर उपचार के लिए उच्चतर चिकित्सा संस्थानों में रेफर किया गया और आयुष्मान भारत योजना के तहत 2,30,890 लोगों को गोल्डन कार्ड भी दिए गए। कोविड काल में इस मेले को स्थगित करना पड़ा था। 10 जनवरी से फिर आरोग्य मेले की शुरुआत हुई। प्रदेश में अब तक लगे नौ मेलों में 86,172 गंभीर रोगियों को उच्च केंद्रों में इलाज के लिए भेजा गया। इसके अलावा 2,78,707 गोल्डन कार्ड बनाए गए हैं।

सचिव-स्वास्थ्य हेकाली झिमोमी ने कहा कि मुख्यमंत्री जी का स्पष्ट निर्देश है कि आरोग्य मेले का लगातार आयोजन कर ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद लोगों को स्वास्थ्य लाभ दिया जाए। हम इसका अनुपालन सुनिश्चित करना है।

चार घंटे में दो लाख 67 हजार 563 रोगियों का इलाज

17 जनवरी को लगे नौवें मेले का आयोजन सुबह 10 से दो बजे तक किया गया था। इसमें महज चार घंटे में दो लाख 67 हजार 563 रोगियों का इलाज किया गया। इसमें 99,501 पुरुष, 1,27,997 महिलाएं, 40,065 बच्चों का इलाज किया गया। इसमें 3922 गंभीर रोगियों को उच्च चिकित्सालयों में उपचार के लिए भी भेजा गया। साथ ही 23,010 गोल्डन कार्ड वितरित किए गए। मेले में 8608 चिकित्सक, 19,321 पैरा मेडिकल और 16,701 आईसीडीएस स्टाफ ने अपनी सेवाएं दीं।

3400 से अधिक पीएचसी पर लगा आरोग्य मेला

कोरोना महामारी पर नियंत्रण के बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश में फिर से 34 सौ से अधिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 'मुख्यमंत्री आरोग्य मेला' की शुरूआत कर दी गई है। अब 10 जनवरी से प्रदेश के सभी शहरी और ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर हर रविवार सुबह 10 से अपराह्न 04 बजे तक मेले का आयोजन किया जा रहा है।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned