प्रवासी मजदूरों को दी गयी मदद

एक दूसरे से दो गज दूर से ही मिलें

By: Ritesh Singh

Updated: 21 May 2020, 09:35 PM IST

लखनऊ, आज पूरा देश कोरोना के संक्रमण से जूझ रहा है। ऐसे में बहुत से प्रवासी कामगार देश के विभिन्न हिस्सों से अपने घरों को वापिस लौट रहे हैं। कुछ तो ऐसे हैं कि जो साइकिल ट्रक या पैदल ही अपने घरों को जा रहे हैं। इसमें बहुत संख्या में बच्चे व् महिलाएं भी हैं। इतनी गर्मी में घन्टों बिना कुछ खाए पीये मीलों का सफ़र तय कर रहे हैं।

ऐसे ही जरूरतमंद लगभग 300 प्रवासी मजूदरों को गुरूवार को लखनऊ ,आगरा एक्स्प्रेस हाईवे पर उत्तर प्रदेश मेडिकल एंड सेल्स रिप्रेसेंटेटिव एसोसिएशन (यूपीएमएसआरए) के पदाधिकारियों ने जीवन रक्षक घोल(ओआरएस), बिस्किट, फल, पानी, लाई चना का वितरण किया। साथ ही लगभग 150 मास्क भी मजदूरों में वितरित किये।
इस अवसर पर यूपीएमएसआरए के जिला सचिव राहुल मिश्रा ने बताया- पैदल चलने से मजदूरों के पैरों में घाव हो रहे हैं ऐसे में हमने खाने के सामान के साथ-साथ बीटाडीन, रुई एवं पट्टी का भी वितरण किया। मजदूर भाइयों, महिलाओं व बच्चों के शरीर में पानी की कमी न होने पाए इसलिए हमने ओआरएस का भी वितरण किया है।

सावधानी बरतें
- घर से बाहर निकलें तो मास्क/गमछा/रुमाल/स्कार्फ से मुंह-नाक ढककर रखें
- एक दूसरे से दो गज दूर से ही मिलें
- मुंह, नाक व आँख को छूने से बचें
- साबुन-पानी से हाथ अच्छी तरह से धुलें
- साबुन-पानी न मिलने पर ही सेनेटाइजर से हाथ साफ़ करें

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned