ऑस्ट्रेलियाई सांसद ने सीएम योगी को मांगा उधार, कोरोना मैनेजमेंट पर की जमकर तारीफ

ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रेग केली उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से इतने प्रभावित हैं कि उन्होंने कुछ दिनों के लिए योगी आदित्यनाथ को उधार
ही मांग लिया है

By: Hariom Dwivedi

Published: 12 Jul 2021, 02:05 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. कोरोना महामारी से निपटने के योगी मॉडल की देश में ही विदेशों में भी चर्चा हो रही है। ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रेग केली उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से इतने प्रभावित हैं कि उन्होंने कुछ दिनों के लिए योगी को उधार ही मांग लिया है। यूपी में आइवरमेक्टिन के उपयोग को लेकर योगी की तारीफ करते हुए क्रेग केली ने ट्वीट में लिखा, 'भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश... क्या कोई तरीका है जिससे चीफ मिनिस्टर योगी आदित्यनाथ को हम यहां उधार ले आएं ताकि हमारे यहां आइवरमेक्टिन की समस्या को खत्म किया जा सके।' सोशल मीडिया पर क्रेग का यह ट्वीट चर्चा का विषय बना हुआ है। अब तक इस ट्वीट को साढ़े तीन हजार से अधिक लोग रिट्वीट कर चुके हैं।

सीएम ऑफिस ने ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रेग केली के ट्वीट पर जवाब देते हुए कहा कि हम आपकी बेहतर मेजबानी के साथ ही हम आपके साथ कोविड प्रबंधन के उन अनुभवों को बांटने को आतुर हैं जो कि कोरोना संक्रमण काल में हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में मिला। इसी कारण हम लोग वैश्विक महामारी में दवा की कमी को दूर कर सके। पीएम मोदी के मार्गदर्शन में हमें कोरोना महामारी से लड़ने में मदद मिली। आइए हम सभी कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ इस वैश्विक लड़ाई में सहयोग करें।

यह भी पढ़ें : यूपी में कोरोना कर्फ्यू में ढील, कोरोना के कम होते मामलों के बीच सरकार ने लिया बड़ा फैसला

ऑस्ट्रेलियाई सरकार यूपी से सबक ले : क्रेग केली
योगी सरकार के जवाब पर रिट्वीट करते हुए ऑस्ट्रेलियाई सांसद क्रेग केली ने लिखा है, 'यूपी ने कैसे आइवरमेक्टिन को लागू किया और कोविड को हराने में इतनी बड़ी सफलता हासिल की, यह जानना एक सम्मान की बात होगी। कोविड नियंत्रण में असफल ऑस्ट्रेलियाई सरकार यूपी से सबक ले। यहां अनिश्चितकाल के लिए बंद हैं और मैं सिडनी छोड़ने में असमर्थ हूं।'

आइवरमेक्टिन के उपयोग में माहिर है यूपी : ऑस्ट्रेलियाई सांसद
आस्ट्रेलियाई सांसद ने कहा कि भारत की आबादी का 17 फीसदी हिस्सा रखने वाले उत्तर प्रदेश में बीते 30 दिनों में सिर्फ 2.5 फीसदी मौत और एक फीसदी नये संक्रमण के मामले सामने आए हैं। जबकि नौ फीसदी आबादी वाले महाराष्ट्र में 18 फीसदी नये मामले और 50 फीसदी मौत के आंकड़े सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत का महाराष्ट्र भले ही दवा निर्माण में चैम्पियन है, लेकिन उत्तर प्रदेश तो आइवरमेक्टिन के उपयोग में माहिर है।

यह भी पढ़ें : सीएम योगी का दावा- ब्लॉक प्रमुख की 635 सीटों पर मिली जीत

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned