scriptAzam Khan to appear in Lucknow CBI Court | Jal Nigam Recruitment Scam : आजम खां की सीबीआई कोर्ट में हुई पेशी, नहीं तय हो सके आरोप, जानिए क्या है वजह | Patrika News

Jal Nigam Recruitment Scam : आजम खां की सीबीआई कोर्ट में हुई पेशी, नहीं तय हो सके आरोप, जानिए क्या है वजह

Jal Nigam Recruitment Scam : सपा सरकार के दौरान हुआ था। उस समय आजम खां जल निगम बोर्ड के अध्यक्ष थे। शासन ने इस मामले की जांच एसआईटी से कराई थी। एसआईटी की जांच रिपोर्ट के आधार पर 25 अप्रैल 2018 को आजम खां समेत तत्कालीन नगर विकास सचिव, जल निगम के तत्कालीन एमडी, मुख्य अभियंता समेत भर्ती प्रक्रिया में शामिल अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था।

 

लखनऊ

Updated: May 12, 2022 05:18:59 pm

Jal Nigam Recruitment Scam : समाजवादी के वरिष्ठ नेता व रामपुर सदर से विधायक आजम खां सपा सरकार के दौरान जल निगम भर्ती घोटाले के मामले में सीबीआई कोर्ट में पेशी हुई। 12 मई को कोर्ट में आजम खां के खिलाफ आरोप तय होने थे। लेकिन पेशी के दौरान आजम खां के वकील ने कोर्ट के सामने दलील रखी कि सरकारी पक्ष ने उन्हें अभी कोई भी दस्तावेज नहीं दिए गए हैं, जिस पर कोर्ट ने सरकारी वकील को निर्देश दिए कि आरोपी पक्ष को दस्तावेज उपलब्ध कराए जाएं। अब मामले की अगली सुनवाई के लिए 7 जून की तिथि दी गई है। इस दौरान आजम खां करीब आधे घंटे तक कोर्ट में रूके थे।
uuuuuuuuuuuuuuuuu.jpg
कोर्ट ने दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा

आजम खां के वकील ने बताया कि जल निगम भर्ती घोटाले के मामले में एसआईटी ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी। जिसके बाद 12 मई को आजम खां पर आरोप तय होने थे। लेकिन, आजम खां के वकील ने कोर्ट में फॉरेंसिक रिपोर्ट की मांग की थी। कोर्ट में आजम खां के वकील ने एसआईटी के आरोपों पर आपत्ति करते हुए केस से संबंधित दस्तावेज की मांग की, जिसे कोर्ट ने मानते हुए सरकारी पक्ष को दस्तावेज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
गुरुवार को नहीं तय हो सके आरोप

सुनवाई के दौरान आजम के अधिवक्ता ने कोर्ट को बताया कि उन्हें आरोप पत्र की पूरी कॉपी प्राप्त नहीं कराई गई हैं। इसलिए उन्हें पूरी कॉपी प्राप्त कराई जाएं। उनकी ओर से इस दलील पर गुरुवार को आजम खां पर आरोप तय नहीं हो सके। कोर्ट ने उनके अधिवक्ता को आरोप पत्र की पूरी कॉपी प्रदान करने का निर्देश देते हुए, मामले की अगली सुनवाई के लिए 7 जून की तिथि तय की है।
शीर्ष अदालत का जताया आभार

इस दौरान मीडिया द्वारा पूछे गए सवालों पर आजम खां ने कहा कि वो सुप्रीम कोर्ट का धन्यवाद करते हैं। उन्होंने कहा कि चलो किसी ने तो उनके बारे में सोचा। आजम ने कहा है कि उनकी तबियत बहुत खराब है। सके बावजूद उन्हें उस बैरक में रखा जा रहा है, जहां फांसी की सजा पाए कैदियों को रखा जाता है.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : 21 मई को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शवWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणपटियाला जेल में बंद Navjot Singh Sidhu ने पहली रात नहीं खाया जेल का खाना, नहीं मिला कोई VIP ट्रीटमेंटRajiv Gandhi Death Anniversary: भावुक हुए राहुल गांधी, पिता को याद कर कही दिल की बातभारतीय की शान Veer Mahaan का एक फिर खौला खून, कहा- पूरे WWE लॉकर रूम का बुरा हाल करूंगाInflation Around the World: महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.