आजमगढ की घटना पर पूरे प्रदेश मे रेड एलर्ट

आजमगढ की घटना पर पूरे प्रदेश मे रेड एलर्ट
To guarantee the security police came, the flag march

Anil Ankur | Publish: Mar, 24 2016 04:32:00 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

हर जिलों की सीमा पर नाकेबंदी कर दी जाए और आने जाने वालों पर नजर रखी जाए


लखनऊ। आजमगढ में होली खेलने के दौरान शुरू हुए विवाद के बाद प्रदेश के गृह विभाग और प्रदेश पुलिस प्रमुख ने पूरे प्रदेश में रेड एलर्ट का ऐलान कर दिया है। सभी आने जाने वालों की सघन जांच के आदेश दिए गए हैं। पुलिस प्रशासन से कहा गया कि हर जिलों की सीमा पर नाकेबंदी कर दी जाए और आने जाने वालों पर नजर रखी जाए।

उल्लेखनीय हे कि आजमगढ के फरीदाबाद थाना क्षेत्र में आज होली खेलने को लेकर दो पक्षों में इतना विवाद बढ गया कि आपस में  पथराव शुरू हो गया और लोगों अज्ञात लोगांे द्वारा हवाई फायरिंग भी की गई।सूत्रों की मानें तो होली खेल रहे लोगों के साथ खोदादादपुरए चकियांए फरिहां संजरपुरए दाउदपुर आदि आधा दर्जन गांव के लोग तथा दूसरे पक्ष के साथ अंबरपुरए बीबीपुरए फरीदाबाद आदि गांवों के लोग खड़े हो गये। इसके विवाद लगातार बढ़ता गया। करीब दस बजे पथराव शुरू हुआ और अपराह्न एक बजे तक जारी था। घटना की जानकारी होने पर निजामाबादए सरायमीरए कप्तानगंजए गंभीरपुर आदि थानों की फोर्स 11 बजे पहुंच गयी थी लेकिन पुलिस बेकाबू भीड़ को नियंत्रण करने में असफल रही। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक दयानंद मिश्र पीएसी व दंगा नियंत्रण टीम के साथ 12 बजे मौके पर पहुंच गये। इसके बाद भी हालात बेकाबू बना हुआ है।

सूत्रॊ का कहना हे कि इस ममाले में एक पक्ष का आरोप है कि तीन बाइक से कुछ लोग महिलाओं को लेकर मिट्टी देने जा रहे थे तभी फरीदाबाद में होली खेल रहे नशे में धुत्त लोगों ने बाइक  महिलाओं पर रंग डाल दिया और पुरूषों का मारापीटा। इसी बात को लेकर विवाद हुआ। वहीं दूसरे पक्ष के लोगों का आरोप है कि वे चुपचाप होली खेल रहे थे तभी कुछ लोग आये और उनसे झगड़ा करने लगे। उक्त लोग घर के बाहर होली खेलने का विरोध किये। जब युवक नहीं माने तो उन्हें मारने पीटने लगे। सच जो भी हो लेकिन यहां हालात पूरी तरह बेकाबू हैं। एक पक्ष फरीदाबाद चौक तो दूसरा खोदादादपुर बैंक के पास जमा है और दोनों तरफ से रूक रूक कर पथराव किया जा रहा है। पुलिस बीच में जुटी है। पुलिस अधिकारी अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं।

गृह विभाग प्रमुख सचिव देबाशीष पांडा और और प्रदेश पुलिस प्रमुख जवीद अहमद ने पुलिस अधिकारियों की आपात बैठक बुलाकर स्थिति का जायजा लिया और पूरे प्रदेश में रेड एलर्ट के आदेश जारी कर दिए और यह भी कहा कि किसी भी कीमत पर हालात में काबू पाया जाए और इस घटना के लिए दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। मॊके पर आसपास से पुलिस बल भेजा जा रहा हे. फिलहाल घटना की जानकारी लेने क लिए वाराणसी जोन के आईजी और मंडलायुक्त को भी दिशा निर्देश दिए गए हैं। पुलिस अधिकारियों की एक टीम लखनउ से आजमगढ के लिए रवाना कर दी गई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned