बाबरी विध्वंस मामला: CBI कोर्ट में पूरी हुई बहस, अब इस दिन आएगा फैसला

अयोध्या (Ayodhya) में 6 दिसम्बर 1992 को गिराए गए विवादित ढांचे (Babri Demolition) के मामले में सीबीआई (CBI) की विशेष कोर्ट (CBI Special Court) में दोनों पक्षों की बहस मंगलवार को पूरी हो गई।

By: Abhishek Gupta

Published: 02 Sep 2020, 06:16 PM IST

अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) में 6 दिसम्बर 1992 को गिराए गए विवादित ढांचे (Babri Demolition) के मामले में सीबीआई (CBI) की विशेष कोर्ट (CBI Special Court) में दोनों पक्षों की बहस मंगलवार को पूरी हो गई। अब 30 सितंबर तक अदालत अपना फैसला सुनाएगी। बुधवार से अदालत ने अपना फैसला लिखना शुरू कर दिया है। इससे पूर्व वरिष्ठ वकील मृदल राकेश, आईबी सिंह और महिपाल अहलूवालिया ने आरोपियों की तरफ से मौखिक दलीलें पेश की, जिसके बाद सीबीआई के वकीलों ललित सिंह, आरके यादव और पी. चक्रवर्ती ने भी मौखिक दलीलें दीं। बाबरी विध्वंस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रत्येक दशा में 30 सितंबर तक अपना निर्णय सुनाने का आदेश दिया था। 1 सितंबर को सीबीआई की विशेष अदालत में इस मामले की आखिरी सुनवाई पूरी हो गई। तो अब मुमकिन है कि तय तारीख तक अदालत अपना फैसला सुना देगी।

ये भी पढ़ें- UP Corona update: 5716 और कोरोना संक्रमित, सीएम योगी ने जारी किए यह निर्देश

मंगलवार को अदालत में बचाव पक्ष की तरफ से वरिष्ठ वकील मृदुल राकेश ने व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर अपनी मौखिक बहस पूरी की, जबकि वरिष्ठ वकील आईबी सिंह ने वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए अपने मुवक्किल आरएन श्रीवास्तव की ओर से मौखिक बहस की। उधर, दिल्ली से वकील महिपाल अहलूवालिया ने भी वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए वरिष्ठ बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी व मुरली मनोहर जोशी की तरफ से मौखिक बहस की। अदालत में बचाव पक्ष की ओर से वकील विमल कुमार श्रीवास्तव, अभिषेक रंजन व केके मिश्रा भी उपस्थित थे। दूसरी ओर सीबीआई की ओर से वकील पी चक्रवर्ती, ललित कुमार सिंह व आरके यादव ने मौखिक बहस की।

ये भी पढ़ें- यूपी में कानून व्यवस्था फेल, लगातार दूसरे दिन ट्रिपल मर्डर, पति, पत्नी व बेटे की हत्या, मायावती ने सरकार को घेरा

यह थे आरोपी-
बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई ने जांच के बाद इस मामले में कुल 49 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था। इनमें से 17 की सुनवाई के दौरान ही मौत हो चुकी है। वहीं पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, साक्षी महाराज, साध्वी रितंभरा, विश्व हिंदू परिषद नेता चंपत राय सहित 32 आरोपियों की सुनवाई हुई हैं।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned