लखनऊ। बड़े मंगल पूर्णिमा पर सनातन घाट झूलेलाल वाटिका पर सनातन महासभा द्वारा मंगलवार को आयोजित 43वी आदि गंगा मां गोमती महाआरती महंत धर्मेंद्रदास महाराज, साध्वी कोयल गिरी , आनद नारायण जी महाराज, आई0 पी0 एस0 डॉ0 सूर्य कुमार शुक्ल के सानिध्य में 11 भव्य मंचो से मंगलाचरण, स्वस्तिवाचन, पुष्पांजलि और शंखनाद के साथ हुई।

इस बार हनुमान के बने बच्चों ने गोमती आरती की।

राष्ट्रीय अध्यक्ष संयोजक डॉ0 प्रवीण ने बताया कि आज महाआरती से पूर्व बड़े मंगल पर हनुमान के रूप में बच्चों को लेकर 108 हनुमान चालीसा का पाठ आयोजित हुआ और आज बच्चों ने श्री राम जी और उनके प्रिय श्री हनुमान के रूपो में वृक्षारोपण के साथ 1008 दीपो के साथ पर्यावरण संरक्षण हेतु सभी को संकल्प कराया और डॉ0 प्रवीण ने बताया कि शासन से मांग की गयी है कि जल जीवन दायिनी माँ गोमती को बचाने हेतु गोमती नदी के आस पास का अतिक्रमण हटाकर केवल वृक्षारोपण के साथ सुंदरीकरण किया जाये।

जिससे असली में संरक्षण किया जा सके। आज सनातन घाट दीपो से जगमगा उठा और बजरंगबली के जय जयकार से गूंज उठा साथ ही सभी ने मिलकर अगले तीन माह में 1100 वृक्ष लगाने का संकल्प किया।

सनातन शिरोमणि सम्मान

महाआरती के बाद सनातन शिरोमणि सम्मान से साध्वी कोयल गिरी जी महाराज, आई0 पी0 एस0 डॉ0 सूर्य कुमार शुक्ल, आई0 ए0 एस0 सुनील श्रीवास्तव, जज सिविल कोर्ट रीमा मल्होत्रा, राज्य सलाहकार स्वास्थ्य भवन उ0 प्र0 सतीश त्रिपाठी, लखनऊ बार के पूर्व अध्यक्ष सी0एल0 दीक्षित को भी सम्मानित किया गया। साथ ही विशेष सनातन धर्म के विस्तार व अखंड भारत निर्माण के कार्य में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे कार्यकर्ताओ को विशेष शस्त्र तलवार से सम्मानित किया गया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned