मुलायम की इस बहू ने छोड़ा अखिलेश का साथ

मुलायम की इस बहू ने छोड़ा अखिलेश का साथ

Anil Ankur | Publish: Oct, 14 2018 09:16:56 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 09:16:57 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बोली अपर्णा नेताजी के बाद सबसे ज्यादा चाचा को मानती हूं

 


लखनऊ। मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने अखिलेश यादव का साथ तकरीबन छोड़ दिया है। इसीलिए उन्होंने शिवपाल यादव के साथ मंच साझा किया। इसके एक दिन पहले मुलायम और शिवपाल एक मंच पर आए थे और मुलायम ने यहां तक कहा था कि अगर घर में भी कोई हक छीने तो आवाज उठानी चाहिए। अपर्णा ने इस दौरान मंच पर शिवपाल के पैर छूकर अपर्णा ने आशीर्वाद लिया। अपर्णा ने कहा कि मैं चाचा का बेहद सम्मान करती हूं। नेताजी के बाद मैंने सबसे ज्यादा शिवपाल चाचा को ही माना है।

भाजपा की मदद कर रहा है शिवपाल का मोर्चा
सियासी जानकारों की मानें तो समाजवादी पार्टी छोड़कर सेक्युलर मोर्चा बनाने के बाद जिस तरह से एसपी में साइडलाइन किए गए नेताओं को एक-एक करके शिवपाल अपने मोर्चे में ला रहे हैं, माना जा रहा है कि उसकी अगली कड़ी समाजवादी परिवार के लोग भी हैं। लेकिन यह सब सपा और उसके गठबंधन को नुकशान पहुंचाएंगे। भाजपा का सीधा फायदा इस मोर्चे से होगा।

मंच पर सबके सामने पैर छूकर लिया चाचा का आशीर्वाद
कार्यक्रम में अपर्णा यादव ने भी लोगों से मोर्चे को आगे बढ़ाने की अपील की और यह भी कहा कि वह चाचा के साथ हैं। शनिवार को विश्वेश्वरैया सभागार में राष्ट्रीय क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी का 15वां स्थापना दिवस 24 दलों के सम्मेलन के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिवपाल यादव थे। इसमें मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव भी शामिल हुईं। मंच पर शिवपाल के पैर छूकर अपर्णा ने आशीर्वाद लिया। उनका इस कार्यक्रम में आना महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

चाचा शिवपाल ने दिलाया था अपर्णा को टिकट
राजनीतिक प्रेक्षक मोर्चा की इस गतिविधि को अखिलेश यादव की बढ़ती मुसीबत के तौर पर देख रहे हैं। वैसे भी शिवपाल यादव का सॉफ्ट कॉर्नर अपर्णा के साथ रहा है। पिछले विधानसभा चुनाव में जब अपर्णा को टिकट देने के लिए अखिलेश यादव तैयार नहीं थे तो शिवपाल यादव ने ही एड़ी-चोटी का जोर लगाकर अपर्णा को टिकट दिलवाया था। यह सब तब हुआ था जब अखिलेश घोर विरोध कर रहे थे।

Ad Block is Banned