सावधानी से बड़ी दुर्घटना को रोक जा सकता है :राज्यपाल

राज्यपाल ने अपने प्राणों का बलिदान देने वाले अग्निशमन कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि अग्निशमन कर्मियों के अटूट साहस, पराक्रम एवं उनकी कर्तव्य निष्ठा के कारण ही अनेकों लोगों की जान एवं माल की रक्षा संभव है।

लखनऊ. यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने गुरुवार को राजभवन में अग्नि सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर अग्निशमन सेवा विभाग द्वारा आयोजित एक रैली का शुभारम्भ झण्डा दिखाकर किया। पुलिस महानिदेशक अग्निशमन सेवा प्रवीन सिंह ने राज्यपाल को स्टीकर फ्लैग लगाकर सम्मान किया।

14 अप्रैल 1944 को मुम्बई के विक्टोरिया बन्दरगाह पर घटित भीषण अग्निकाण्ड में 66 अग्निशमन कर्मियों ने अपने प्राणों की आहूति दी थी। उक्त अग्निशमन कर्मियों की याद में पूरे भारतवर्ष में प्रतिवर्ष 14 को अप्रैल ‘अग्निशमन सेवा स्मृति दिवस‘ एवं इसी दिन से एक सप्ताह तक ‘अग्नि सुरक्षा सप्ताह‘ मनाया जाता है।

राज्यपाल ने अपने प्राणों का बलिदान देने वाले अग्निशमन कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि अग्निशमन कर्मियों के अटूट साहस, पराक्रम एवं उनकी कर्तव्य निष्ठा के कारण ही अनेकों लोगों की जान एवं माल की रक्षा संभव है। अग्निशमन विभाग द्वारा अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को आग लगने के कारणों एवं उससे बचने के उपायों के प्रति जागृत किया जाना चाहिए, जिससे बड़ी दुर्घटनाएं रोकना संभव हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि केरल में हुए अग्निकांड एवं कुछ दिन पूर्व लखनऊ के अमीनाबाद मार्केट में लगी आग को दुखःद बताते हुए कहा कि सावधानी बरत कर हम दुर्घटना से बच सकते हैं। इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक अग्निशमन सेवा जीपी शर्मा सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned