तेज धूप आंखों को पहुंचा सकती है नुकसान, चुभती गर्मी से ऐसे बचें

सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावायलेट किरणों से आंखों को बचाना पहुत जरूरी होता है।

By: Mahendra Pratap

Published: 07 Jun 2018, 09:11 AM IST

लखनऊ. आपको अपनी आंखों को तेज धूप से बचाकर रखना चाहिए। गर्मी को मौसम में सूरज से जो किरणें निकलती हैं वह अल्ट्रावायलेट किरणें होती हैं जोकि आपकी आंखों को नुकसान पहुंचाती हैं। अल्ट्रावायलेट किरणों को हम पराबैंगनी किरणें भी कहते हैं। लखनऊ के डॉक्टर आनन्द वर्धन ने बताया हैं कि सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावायलेट किरणों से आंखों को बचाना पहुत जरूरी होता है क्योंकि इन किरणों के संम्पर्क में आने से और ज्यादा देर तक रहने से आपकी आंखों में एलर्जिक रिएक्शन हो जाता है। जिससे आपकी आंखों की रोशनी कम होने लगती है। ज्यादा धूप रहना भी आपके लिे खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए आपको अपनी आंखों को तेज धूप से बचाने की कोशिश करें।

आंखों को मलना नहीं चाहिए

जब भी आपकी आंखों में चुभन, जलन हो या धूल के कण चले जाए तो कुछ लोग ऐसे होते हैं कि अपनी आंखों को मलने लगते हैं। आंखों को मलने से कई नुकसान भी हो सकते हैं। इसलिए ऐसा कभी न करें। अगर आंखों में किसी प्रकार की कोई परेशानी होती है तो साफ रूमाल या कपड़े से इसे हल्के हाथों से सहलाना चाहिए या फिर अपनी आंखों को आराम देने के लिए ठंडे पानी से धुलना चाहिए।

सनग्लासेज अवश्य लगाना चाहिए

अगर आप कहीं धूप में जा रहे हैं तो चश्मा पहनकर बाहर जाए जिससे सूरज से निकलने वाली घातक अल्ट्रावायलेट किरणों से आप अपनी आंखों नुकसान होने से बचा सकते हैं। तेज धूप के कारण आंखों की रोशनी पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही धूल के कण रेटिना को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा तेज धूप में अल्ट्रावायलेट किरणों से आंखों के ऊपर बनी टीयर सेल यानी आंसूओं की परत टूटने या क्षतिग्रस्त होने लगती है। जिससे यह स्थिति कॉर्निया के लिए हानिकारक साबित हो सकती है। इसलिए हमेशा तेज धूप में अल्ट्रावायलेट किरणों से आंखों को बचाने के लिए सनग्लासेज चश्में काउपयोग अवश्य करना चाहिए।

एलर्जिक रिएक्शन के लक्षण

1. आंखों में जलन होना
2. आंखें लाल हो जाना
3. आंखों से पानी आना
4. आंखों में चुभन होना
5. कंजेक्टिवाइटिस रोग

आंखों को ठण्डे पानी से ही धुलें

अगर आप तेज धूप से लौटकर घर आते हैं। तो उस समय आपके शरीर का तापमान बढ़ जाता है इसलिए पहले घर में आकर थोड़ा आराम करें जिससे आपके शरीर का तापमान धीरे-धीरे सामान्य होने लगता है। इसके लिए पंखे के नीचे पांच मिनट तक थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं। इसके बाद ठंडे पानी से चेहरे और आंखों को अच्छी तरह धुलना चाहिएं। आंखों पर ठंडे पानी के छींटे मारें और फिर मुलायम टॉबल से आराम से पोछें। अगर आंखों में जलन ज्यादा है और लाल हैं तो बर्फ को अपनी आंखों पर रखकर थोड़ी देर तक सिकाई करें।

 

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned