अंतरराष्ट्रीय लग्जरी गाड़ियां चोरी करने वाले गिरोह में भोजपुरी एक्टर शामिल

(Bhojpuri actor) बिहार जेल से लेकर दिल्ली तक और कश्मीर से लेकर चेन्नई तक फैला हुआ है नेटवर्क

By: Ritesh Singh

Published: 22 Jun 2020, 01:57 PM IST

लखनऊ -राजधानी पुलिस ने अंतर्राष्ट्रीय लग्जरी वाहन चोरों के गिरोह को गिरफ्तार किया है। इनके पास से बीएमडब्ल्यू समेत 50 महंगी गाड़िया पुलिस ने बरामद की है। जिनकी कीमत 5 करोड़ से अधिक आंकी जा रही है। इस गिरोह का नेटवर्क पूरे भारत मे फैला है। जिन 5 लोगो को गिरफ्तार किया गया है। इनमें भोजपुरी एक्टर नासिर भी शामिल है। जो 3 फिल्मों में काम कर चुका है। बिहार जेल से लेकर दिल्ली तक और कश्मीर से लेकर चेन्नई तक फैला हुआ है। नेटवर्क प्राइवेट कम्पनी इंशोरेंस कम्पनी भी इसमें शामिल है इस गिरोह का भंडाफोड़ करने के लिये हमने इनोवा खरीदी । 

चिनहट पुलिस, डीसीपी पूर्वी वा सर्विलांस सेल की टीम ने मिलकर पूरे देश में चोरी की गाड़ियां बेचने वाले इस गिरोह का खुलासा कर 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से 5 करोड रुपए कीमत की 50 लग्जरी गाड़ियां भी बरामद की हैं पकड़े गए आरोपियों में एक भोजपुरी एक्टर है जो भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुका है। ये शातिर गिरोह एक्सीडेंटल गाड़ियों को खरीदता था और उसके बाद वैसे ही गाड़ी को चुराकर गाड़ी में एक्सीडेंटल गाड़ी का नंबर और चेचिस बदल देता था। बाद में इसे लोगों को बेच देता था। क्योंकि चोरी की गाड़ी के इंजन और चेसिस नंबर को एक्सीडेंटल गाड़ी से चेंज कर दिया जाता था। और कोई भी चोरी की गाड़ियां है ये जान नही पाता था।इस गिरोह का नेटवर्क पूरे देश में में फैला है। दिल्ली से लेकर बिहार, जम्मू कश्मीर पश्चिम बंगाल तक ये लोग चोरी की गाड़ियां बेचते थे।

गिरफ्तार आरोपियों में रिजवान नाम का जो सख्स है। इसने चोरी की गाड़ी से मिलने वाली रकम से बैंकॉक में एक होटल तक खरीदा हुआ है वही दूसरा व्यक्ति नासिर है जो अब तक तीन भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुका है पुलिस पांचो लोगों को रिमांड पर लेकर इसके तार खंगालने की बात कर रही है। और दावा है कि 500 से 1000 गाड़ियो की इस गिरोह ने इसी तरह हेरा फेरी कर रखी है और कितने लोग इस काले कारनामे में शामिल है उसका भी पता लगाया जा सके, पुलिस कमिश्नर ने गिरफ्तार करने वालीं टीम को 50 हजार का इनाम देने का ऐलान किया है । इस गिरोह में पूरे देश से बड़ी संख्या में लोग शामिल हैं यही वजह है कि पुलिस की कई टीमें इस गैंग के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए यूपी से बाहर डेरा डाले है।

Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned