scriptbig challenge to save wetland in uttar pradesh said dr kashif imdad | नम-भूमि को बचाना बड़ी चुनौती, यूपी में Wetland से मिलेगा किसानों को रोजगार- डॉ काशिफ इमदाद | Patrika News

नम-भूमि को बचाना बड़ी चुनौती, यूपी में Wetland से मिलेगा किसानों को रोजगार- डॉ काशिफ इमदाद

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नम भूमि क्षेत्र या वेटलैंड को लेकर एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें इन क्षेत्रों के संरक्षण पर ज़ोर दिया गया। डॉ काशिफ इमदाद ने पत्रिका डॉट कॉम से विशेष बातचीत के दौरान कहा कि हमें जल्दी ही ऐसे क्षेत्रों को बचाने के लिए कुछ जरूरी ठोस कदम उठाने की जरूरत है। अभी पूरी दुनिया में आस्ट्रेलिया, नमभूमि संरक्षण की मुहिम सबसे आगे है। हमें प्लानिंग करके प्रकृति को बचाना होगा।

लखनऊ

Updated: December 23, 2021 06:50:12 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में किसानों की सबसे बड़ी समस्या ऊसर और गैर उपजाऊ क्षेत्रो को लेकर है। जिसके समाधान को लेकर हर स्तर पर सरकार और अन्य संस्थान प्रयासरत हैं। ऐसा ही एक कार्यक्रम राजधानी आयोजित किया गया।
Picture During Programe
Picture During Programe
क्या है वेट लैंड क्षेत्र

वेटलैंड ऐसा भू-भाग होता है जहां के पारितंत्र का बड़ा हिस्सा स्थायी रूप से या प्रतिवर्ष किसी भी मौसम में जल से डूबा हो। ऐसे क्षेत्रों में जलीय पौधों की मात्रा अधिक रहती है। ऐसा भाग वेटलैंड को परिभाषित करता है। जैव विविधता की दृष्टि से वेटलैंड अत्यंत संवेदनशील होते हैं क्योंकि विशेष प्रकार की वनस्पति व अन्य जीव ही नमभूमि पर उगने और फलने-फूलने के लिये अनुकूलित होते है।
चार चरणों में सम्पन्न हुआ कार्यक्रम

एक दिवसीय चलने वाले कार्यक्रम चार चरणों मे सम्पन्न हुआ। जिसमें नम भूमि (Wetland) पर सभी ने अपने अपने विचार व्यक्त किए। दूसरे चरण मे हमारे मुख्य अतिथि गणों ने नम भूमि से सम्बन्धित परियोजनाओं का प्रस्तुती करण किया गया।
जिनमे डा. रवि कुमार सिंह (आई. एफ. एस.) ने नम भूमि से सम्बन्धित कुछ मुख्य आंकड़ों को सामने रखा एवं नम भूमि से सम्बन्धित समस्याओं का उलेखन एवं समाधान प्रस्तुत किया।

प्रो. वेंकटेश दत्त ने नम भूमि के सर्वेक्षण का एक महत्वपूर्ण प्रस्तुतीकरण किया जिनमे उन्होंने बताया कि किस तरह नम भूमि का क्षरण पिछले गत वर्षों से लगातार हो रहा है। प्रायोगिक तरीके से इसका समाधान कैसे किया जा सकता है। इसी कड़ी मे डा वी राजमणि ने सुर सरोवर एवं उत्तर प्रदेश के अन्य महत्वपूर्ण परियोजनाओं का एक संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया।
तृतीय चरण मे उपस्थित विशेषज्ञों ने किसान मित्रों से बातचीत की एवं उनकी समस्याओं को सुन एवं उनके निवारण हेतु समाधान प्रस्तुत किया। जिसमे मे मछली पालक, सिंघाड़ा उत्पादक, किसान मित्र आदि मौजूद रहें।
चौथे एवं अंतिम चरण मे एक सिमपोसिया का आयोजन किया गया। जिसमे विशेषज्ञों की ससंगोष्ठी मे नमभूमि संरक्षण से संबंधित मुद्दों एवं इस संबंध मे कार्य योजना निर्माण हेतु गहन विचार विमर्श किया गया। कार्यक्रम का समापन डा पी. के. सिंह. (नेशनल पी. जी. कालेज) के कृतज्ञ शब्दों से हुआ.
nav_bhumi.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

2 बच्चों के पिता और 47 साल के मर्द पर फ़िदा है ‘पुष्पा’ की 25 साल की एक्ट्रेस, जाने कौन है वोशादी के बाद पत्नी का ये रुप देखकर बढ़ गई पति और ससुर की टेंशन, जान बचाने थाने भागे100-100 बोरी धान लेकर पहुंचे थे 2 किसान, देखते ही कलक्टर ने तहसीलदार से कहा- जब्त करोNew Maruti Wagon R : अनोखे अंदाज में आ रही है आपकी फेवरेट कार, फीचर्स होंगे ख़ास और मिलेगा 32Km का माइलेज़फरवरी में मकर राशि में ग्रहों का महासंयोग, मेष से लेकर मीन तक इन राशियों को मिलेगा लाभMaruti Brezza CNG इस महीने होगी लॉन्च, नए नाम के साथ मिलेगा 26Km से ज्यादा का माइलेज़फरवरी में इन राशियों के जातक अपने प्रेम का कर सकते हैं इजहार, लव मैरिज के शुभ योगराजस्थान में यहां JCB से मिलाया 242 क्विंटल चूरमा, 6 क्विंटल काजू बादाम किशमिश डाले

बड़ी खबरें

Pegasus Spyware Deal: न्यूयॉर्क टाइम्स का दावा-2017 में रक्षा सौदे के साथ हुई थी पेगासस की डील, इस खुलासे पर कांग्रेस हमलावररीट पेपर लीक होने से पहले बाजार में लगी थी बोली, मिला उसे जिसने लगाए सबसे ऊंचे दामरीट पेपर लीक मामलाः डीपी जारोली पर गिरी गाज, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से किया बर्खास्तसपा ने जारी किया 10 सूत्रीय संकल्प पत्र, सत्ता में आए तो किसानों को ब्याज कर्ज मुक्त, दोबारा शुरू होगी समाजवादी पेंशन योजनाBudget 2022: टीनएजर्स को आसान भाषा में इस तरह समझाएं बजटUttarakhand Assembly Elections 2022: दो दशक में पहली बार हरक सिंह रावत को नहीं मिला टिकट, जानें क्योंये है भारत की सबसे अमीर राजनीतिक पार्टी, जानें बीजेपी, सपा, बसपा व कांग्रेस के पास है कितनी संपत्तिTRAI का दूरसंचार कंपनियों को आदेश, 30 दिन की वैधता वाला कम से कम एक प्लान करें लॉन्च
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.