विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास

विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास
विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास,SURAT NEWS : कपड़ा व्यापारी पर जान लेवा हमले से सनसनी,SURAT NEWS : कपड़ा व्यापारी पर जान लेवा हमले से सनसनी,विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास,विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास,योगीराज विजय शांतिसूरि मंदिर का शिलान्यास,योगीराज विजय शांतिसूरि मंदिर का शिलान्यास,विश्व बैंक की बड़ी मदद, होगा बौद्ध सर्किट का विकास

Narendra Awasthi | Updated: 12 Oct 2019, 09:48:31 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- उत्तर प्रदेश में 500 किमी लम्बाई के राज्य मार्गों के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण हेतु एमओयू पर हस्ताक्षर

- ऋण अनुबन्ध के अन्तर्गत 400 मिलियन यू.एस. डालर विश्व बैंक द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा

लखनऊ. प्रमुख सचिव, लोक निर्माण विभाग उ.प्र. शासन नितिन रमेश गोकर्ण ने बताया कि आज वित्त मंत्रालय, नार्थ ब्लाक, नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम - बैठक में, आर्थिक विकास विभाग, वित्त मंत्रालय भारत सरकार, विश्व बैंक एवं उ.प्र. सरकार के मध्य उ.प्र. कोर रोड नेटवर्क विकास परियोजना हेतु 400 मिलियन यू.एस. डाॅलर ऋण अनुबन्ध पर हस्ताक्षर किये गये। श्री गोकर्ण ने बताया कि भारत सरकार की तरफ से समीर खरे अतिरिक्त सचिव, आर्थिक कार्य विभाग वित्त मंत्रालय, विश्व बैंक की तरफ से जुनैद अहमद, कन्ट्री डायरेक्टर एवं उप्र सरकार की तरफ से गिरिजेश कुमार त्यागी, विशेष सचिव, लोक निर्माण विभाग द्वारा ऋण अनुबन्ध पर हस्ताक्षर किये गये।

 

400 मिलियन यू.एस. डाॅलर विश्व बैंक व 170 मिलियन यू.एस. डाॅलर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा

अनुबन्ध के अन्तर्गत कुल 400 मिलियन यू.एस. डाॅलर विश्व बैंक द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा एवं 170 मिलियन यू.एस. डाॅलर उत्तर प्रदेश सरकार अपने संसाधनों से उपलब्ध करायेगी। ऋण से प्रदेश के 500 किमी लम्बाई के राज्यमार्गों का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कराया जायेगा। परियोजना की कुल अवधि 06 वर्ष है जो कि वर्ष 2025 तक समाप्त होगी।

 

इन मार्गों पर होना है कार्य

प्रमुख सचिव, लोक निर्माण विभाग नितिन रमेश गोकर्ण ने बताया कि उ.प्र. में गरौठा-चिरगांव मार्ग, हमीरपुर-राठ मार्ग, गोला-शाहजहांपुर मार्ग, बदायुं-बिल्सी मार्ग, राठ-गरौठा मार्ग, हामिदपुर-कुचेसर मार्ग, मुरादाबाद-हरिद्वार-देहरादुन मार्ग, गढ़-सयाना-मेरठ मार्ग, बहराइच से गोण्डा मार्ग व मेंहदावल से खलीलाबाद मार्गों पर कार्य किया जाना प्रस्तावित है।

मार्ग सुरक्षा के लिए किये जायेंगे कार्य

श्री नितिन ने बताया कि परियोजना के अन्तर्गत मार्गों के विकास के साथ-साथ बौद्ध-परिपथ पर स्थित मार्गों के विकास पर भी जोर दिया गया है। इस परियोजना के अन्तर्गत मार्ग सुरक्षा का एक समेकित घटक प्रस्तावित है, जिसमें लोक निर्माण विभाग, परिवहन विभाग एवं गृह (पुलिस) विभाग द्वारा मार्ग सुरक्षा के अन्तर्गत विभिन्न कार्य कराये जायेंगे। मुख्य रूप से यातायात विभाग के अन्तर्गत हाई-वे पेट्रोल यूनिट की स्थापना की जानी है, जिसके तहत मार्ग दुर्घटनाओं के परिपेक्ष्य में हाई-वे पर पेट्रोलिंग की जानी है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned