उन्नाव रेप केस मामले को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, झूठी थी ट्रक के नंबर छिपाने की बात, इस शख्स ने बताई पूरी कहानी, पलटा पूरा मामला

उन्नाव रेप केस मामले को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, झूठी थी ट्रक के नंबर छिपाने की बात, इस शख्स ने बताई पूरी कहानी, पलटा पूरा मामला

Ruchi Sharma | Updated: 03 Aug 2019, 12:26:20 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

-CBI ने अपनी तहकीकात तेज कर दी है
-फाइनेंस कंपनी बोली- वक्त पर मिल रही थी किश्त

लखनऊ. उन्नाव रेप मामले में पीड़िता (Unnao Rape case) की कार हादसे के बाद सीबीआई (CBI) ने अपनी तहकीकात तेज कर दी है। इसके तहत एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिस ट्रक से पीड़िता की कार का एक्सीडेंट हुआ था उस ट्रक के नम्बर प्लेट पर कालिख पोती हुई थी। ट्रक के मालिक ने बताया था कि फाइनेंस के दवाब से बचने के लिए नंबर प्लेट पर कालिख पोती गई थी। एक न्यूज पेपर की अखबर के अनुसार जब इस मामले को लेकर गहनता से छानबीन की गई तो कानपुर स्थित फाइनेंस कंपनी के कलेक्शन मैनेजर ने ट्रक के मालिक की बात से इनकार किया है। कलेक्शन मैनेजर का साफ कहना है कि ट्रक के लोन की किस्त समय पर मिल रही थी। दुर्घटना के बाद ट्रक के मालिक देवेंद्र किशोर पाल को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था।

यह भी पढ़ें- कुलदीप सिंह सेंगर को भाजपा पार्टी से निकालने के बाद, प्रदेश सरकार का एक और बड़ा फैसला, ये सभी चीज भी हुई रद्द, बड़ा झटका

पूछताछ में हुआ बड़ा खुलासा

हिरासत में पूछताछ के दौरान देवेंद्र ने बताया था कि उसने प्राइवेट फाइनेंस से लोन लेकर ट्रक को खरीदा था। बाद में वह लोन नहीं चुका पा रहा था। इसके बाद उसने नंबर प्लेट पर इसलिए कालिख पोत दी थी कि फाइनेंसर ट्रक को पहचान ना सके। स्थानीय मीडिया ने जब इस बारे में कलेक्शन मैनेजर ने कहा कि देवेंद्र किशोर पाल समय पर ईएमआई चुका रहा था। नाम नहीं बताने की शर्त पर कलेक्शन मैनेजर ने कहा कि हमने देवेंद्र किशोर के तीन ट्रकों के लिए फाइनेंस किया है। उसने हाल ही में एक ट्रक की किश्त पूरी तरह से चुका दी है। बाकि दो ट्रकों की किस्त भी वह समय पर दे रहा था। मैनेजर ने कहा जब वह समय पर ईएमआई चुका रहा था तो ट्रक के नंबर प्लेट को ढंकने का कुछ और और कारण रहा होगा।

यह भी पढ़ें- कुलदीप सिंह सेंगर के बाद पूर्व विधायक अशोक चंदेल को लेकर आई बड़ी खबर, भाजपा ने तोड़ा सस्पेंस, होगा दूसरा बड़ा फैसला

बांदा से आया था ट्रक

उन्नाव गैंगरेप मामले (Unnao Rape case) में एक नया खुलासा हुआ है। जिस ट्रक से हादसा हुआ है वह बांदा का बताया जा रहा है। रायबरेली में दुष्कर्म पीड़िता की कार को टक्कर मारने वाले ट्रक चालक और क्लीनर की आज सीबीआई कोर्ट (CBI Court) में पेशी है। ऐसे में सीबीआई की टीम ट्रक का बांदा कनेक्शन ढूंढ रही है। जिस ट्रक से दुष्कर्म पीड़िता की कार को टक्कर मारी गई, उसमें मौरंग लाद कर लाई गई थी। ट्रक हादसे के विवेचक से पूछताछ और कुछ अहम दस्तावेज लेने के बाद टीम बांदा रवाना हो गई। जिस ट्रक से दुष्कर्म पीड़िता की कार को टक्कर मारी गई वो ट्रक बांदा से आया था। उसमें मौरंग लाद कर लाई गई थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned