scriptBJP 3 more MLCs in UP Legislative Council, Akhilesh yadav has 14 MLA | विधान परिषद में BJP को मिलेंगे 3 और MLC, अब सपा के सिर्फ 14 विधायक | Patrika News

विधान परिषद में BJP को मिलेंगे 3 और MLC, अब सपा के सिर्फ 14 विधायक

यूपी विधान परिषद में समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधित्व और कम हो गया। सपा के तीन विधायकों बलवंत सिंह रामूवालिया, जाहिद हसन वसीम बरेलवी और मधुकर जेटली का कार्यकाल खत्म हो गया।

लखनऊ

Updated: April 28, 2022 03:47:47 pm

इस तरह अब विधानपरिषद में सपा के केवल 14 विधायक ही रह गए हैं। जबकि, अब बीजेपी सदस्यों की संख्या 66 हो गई है। शुक्रवार को खाली होने वाली तीनों सीटें मनोनीत कोटे की थीं। जल्द ही इनसीटों के लिए भारतीय जनता पार्टी उन नवनियुक्त मंत्रियों को मनोनीत कर सकती है जो अभी तक किसी सदन के सदस्य नहीं हैं।
Akhilesh Yadav and Yogi Adityanath
Akhilesh Yadav and Yogi Adityanath
मई में और कम होंगे सपा विधायक
26 मई को भी सपा के तीन विधायकों का कार्यकाल पूरा होने वाला है। ये विधायक हैं डॉ. राजपाल कश्यप, डॉ. संजय लाठर और अरविंद कुमार। यह सभी विधायक भी राज्यपाल द्वारा नॉमिनेट किए गए थे।
इन मंत्रियों को मौका दे सकती है भाजपा
भाजपा सूत्रों के अनुसार रिक्त होने वाली सीटों पर भी बीजेपी अपने नए मंत्रियों को प्रत्याशी बनाएगी। बीजेपी सरकार में जसवंत सैनी, जेपीएस राठौर, दानिश, नरेन्द्र कश्यप और दयाशंकर मिश्र दयालू वे मंत्री हैं, जो मौजूदा समय में किसी भी सदस्य का हिस्सा नहीं हैं। वहीं, दिनेश प्रताप सिंह रायबरेली से निर्वाचित हुए और फिर विधान परिषद सदस्य बन गए।
पहली बार बीजेपी बहुमत में
पहली बार यूपी विधान परिषद में भारतीय जनता पार्टी का बहुमत है। ऐसे में बीजेपी सरकार की पावर और भी ज्यादा बढ़ती दिख रही है। अब सरकार अब हिसाब से अपने दम पर ही कानून पारित करा सकती है। दोनों ही सदनों में किसी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं, समाजवादी पार्टी की ताकत और कम हो जाएगी।
सपा की हालत खराब
हाल ही में विधान परिषद की 36 सीटों के जो चुनाव हुए उनमें 33 सीटें बीजेपी ने जीती थीं। 9 सीटों पर भाजपा के विधायक निर्विरोध चुनाव जीते थे। सपा को एक भी सीट नहीं मिली। बाकी तीन सीटें निर्दलीय उम्मीदवारों के पास गईं थीं।

भाजपा बनाएगी 'यादव ब्रिगेड'
भाजपा ने अब मिशन 2024 की तैयारी शुरू कर दी है। पार्टी की नजर यादव वोट बैंक पर है। यूपी में यादव समाजवादी पार्टी का मूल वोट बैंक माना जाता रहा है। इसलिए अब भाजपा यादव ब्रिगेड तैयार करने जा रही है। इसके जरिए 2024 से पहले यादव खास तौर पर युवा यादव वोटरों तक पहुंचने का लक्ष्य रखा गया है। यादव अब भी समाजवादी पार्टी के कोर वोटर रहा है। इसलिए बीजेपी अब अपने यादव नेताओं की फौज को आगे ला रही है। इसके लिए पार्टी ने उन चेहरों को चुना है, जिनकी लोकप्रियता युवाओं के बीच है। उन्हें भी पार्टी मौका देने जा रही है जो पार्टी कैडर से निकले यादव नेता हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.