फैसले पर बोले साक्षी महाराज-सुप्रीम कोर्ट का निर्णय ही कानून

कहा- यह सब तो काजियों की साजिश थी कि मुस्लिम महिलाओं को कमजोर करके रखा जाए।

 

By:

Published: 22 Aug 2017, 06:04 PM IST

लखनऊ. तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज तो एक कदम और आगे बढ़ गए, उन्होंने शीर्ष कोर्ट के निर्णय को ही कानून बता दिया। बीजेपी सांसद और फायरब्रांड नेता साक्षी महाराज ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला ही कानून है। जब पांच जज की बेंच में तीन ने बहुमत देकर तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया है तो अब किसी कानून बनाने की जरूरत नहीं है। कहा कि अब सबसे ज्यादा तकलीफ उन्हें होगी, जो मुस्लिम बहनों की तकलीफ पर मुस्कुराते थे और जिनकी दुकान तीन तलाक पर चलती थी। यह सब तो काजियों की साजिश थी कि मुस्लिम महिलाओं को कमजोर करके रखा जाए। हमारी सरकारें कानूनन तरीके से अपना काम करेंगी।

कानून लाने की जरूरत नहीं

तीन तलाक के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य जफरयाब जिलानी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत है। हमें पहले से ही कोर्ट पर यकीन था। कहा कि इस मसले पर कानून को लाने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अपने कानून के हिसाब से ही चलता है। कोर्ट ने भी हमारे कानून को संवैधानिक करार दिया है। 10 सितंबर को मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की कार्यकारिणी की बैठक भोपाल में बुलाई गई है।

सीएम बोले- एतिहासिक फैसला

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शीर्ष कोर्ट ने तीन तलाक के मामले को असंवैधानिक घोषित करके एक एतिहासिक फैसला दिया है। यह एक स्वागत योग्य काम है। कहा, यही फैसला अगर सर्वसम्मति से होता तो अच्छा होता। देश में आधी आबादी को न्याय मिलने की यह अच्छी शुरुआत है। इस पर जल्द कार्रवाई शुरू होगी। हम बहुत दिनों तक आधी आबादी को न्याय से वंचित नहीं रख सकते थे। सरकार ने पहले ही अपना पक्ष कोर्ट में रख दिया है। अब तो मुझे लगता है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार स्थिति स्पष्ट कर चुकी है। आने वाले समय में अच्छे परिणाम आएंगे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned