Brick Rate in Increased : यूपी में अब घर बनवाना हुआ महंगा, 1000 रुपए तक बढ़ गये अव्वल ईंट के दाम, 1500 रुपए की बढ़ोत्तरी जल्द

Brick Rate in Increased- लखनऊ ब्रिक एसोसिएशन का कहना है कि बीते दिनों में जिस तरह से डीजल और कोयले के भाव बढ़े हैं, जल्द ही अव्वल ईंट के दाम 10 हजार रुपए के पार जा सकते हैं। भट्टा मालिकों ने ईंट की बढ़ी कीमत का पर्चा आम सूचना के लिए चस्पा कर दिया है। डीजल बढ़ने से ट्रक-ट्रैक्टर से ढुलाई महंगी हो गई है

By: Hariom Dwivedi

Published: 13 Oct 2021, 12:32 PM IST

लखनऊ. Brick Rate in Increased- उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अपना आशियाना बनाने की तैयारी कर रहे लोगों को बड़ा झटका लगा है। बिल्डिंग मैटेरियल के साथ ईंट के दामों में भारी बढ़ोत्तरी हुई है। कोरोना काल में जो अव्वल ईंट 7500 रुपए प्रति हजार में मिल रही थी आज उसका भाव 8500 रुपए पहुंच चुका है। भट्टा मालिकों ने ईंट की बढ़ी कीमत का पर्चा आम सूचना के लिए चस्पा कर दिया है। लखनऊ ब्रिक एसोसिएशन का आंकलन है कि डीजल और कोयले के भाव बढ़ने से जल्द ही अव्वल ईंट के दाम 10 हजार रुपए के पार जा सकते हैं।

लखनऊ ब्रिक एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि डीजल के दाम बढ़ने से ईंट ढोने वाले ट्रक का खर्च करीब डेढ़ गुना महंगा हो गया है। वहीं, नई ईंट बनाने में कोयले की कीमत भी पहले से दोगुनी हो चुकी है। उन्होंने बताया कि अभी तक कोयला 12 हजार रुपए प्रति टन खरीदा जाता था जो अब 25 हजार रुपए प्रति टन की दर से खरीदना पड़ेगा। ऐसे में ईंट के दाम बढ़ाना ही एकमात्र विकल्प बचा है। उन्होंने बताया कि जल्द ही एक ईंट का दाम 10 रुपए पहुंच जाएगा। मतलब 1000 ईंट के लिए 10,000 हजार रुपए चुकाने होंगे।

बिल्डिंग मैटेरियल के भाव
सरिया- 57 हजार रुपए प्रति टन से बढ़कर 62 हजार रुपए प्रति टन
मौरंग- 52 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट से बढ़कर 55 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट
बालू- 31 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट से बढ़कर 32 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट
गिट्टी- 50 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट से बढ़कर 53 हजार रुपए प्रति हजार घन फीट

यह भी पढ़ें : यूपी में श्रमिकों के लिए हैं कई योजनाएं, साढ़े चार साल में 73 लाख से ज्यादा का भवन निर्माण श्रमिकों का हुआ पंजीयन

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned