मोदी के फैसले के बाद BSP दफ्तर में मचा हड़कंप, गाड़ी में बैग भर-भर के भागने लगे नेता!

मोदी के फैसले के बाद BSP दफ्तर में मचा हड़कंप, गाड़ी में बैग भर-भर के भागने लगे नेता!
mayawati

एक गाड़ी में बैग भर के वापस आने के बाद दूसरी गाड़ी अंदर जा रही थी और उसमें बैग भरे जा रहे थे।

लखनऊ. पीएम नरेंद्र मोदी के 1000 और 500 के नोट बैन के बाद आजकल राजधानी स्थित बसपा दफ्तर में काफी गहमागहमी बढ़ गई है। बुधवार को अचानक करीब 100 गाडियां बसपा दफ्तर पहुंची। बसपा दफ्तर पहुंचने वालों में न सिर्फ विधानसभा उम्मीदवार थे बल्कि पार्टी के जिम्मेदार नेता भी शामिल थे। साथ ही सभी गाड़ियों में ब्रीफकेस और बैग भरे हुए थे। सभी गाडियां एक-एक करके अन्दर जा रहीं थीं और उनके वापस आने के बाद ही दूसरी गाड़ी को अन्दर जाने की इजाजत थी। इस घटना को देखने वालों के मन में कई तरह के प्रश्न घूम रहें हैं।




bsp




अचानक पहुंचा गाड़ियों का हुजूम   
हालांकि बसपा नेताओं का कहना है कि यहां प्रत्याशियों की मीटिंग थी और जो बैग अन्दर गए हैं उनमें चुनाव के पम्पलेट भरे हुए थे। इन्हें प्रचार के लिए भेजा जाने वाला है।


bsp


खास बात ये है कि जिस बसपा कार्यालय में अब तक केवल तीन नेताओं की गाड़ी को प्रवेश दिया जाता था, उसी कार्यालय का मुख्य द्वार सभी प्रत्याशियों की गाड़ियों के लिए खोल दिए गए। इन सब बातों को देखते हुए सवाल उठने तो लाजमी हैं। 




bsp




'नोटों की गड्डियां वापस लौटाने के लिए आई थीं गाड़ियां'
वहीं इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने 8 नवंबर को देर रात अपने मुख्य सलाहकार नसीमुद्दीन सिद्दीकी और सतीश चन्द्र मिश्रा से मुलाकात की और आनन फानन में गुरूवार की दोपहर पार्टी के प्रत्याशियों की बैठक बुलाई। वहीं इस बैठक को लेकर विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि मायावती ने टिकट के बदले लिए गए नोटों की गड्डियां वापस लौटाने के लिए पार्टी प्रत्याशियों को बुलाया था, जिसे बैठक का नाम दिया गया है।


bsp

पार्टी कार्यालय के भीतर ही नोटों से भरे बैग प्रत्याशियों की गाड़ियों में रखवाए जाने थे इसीलिए उन्हें कार्यालय में प्रवेश दिया गया था।

वीडियो  देखें:

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned