मायावती ने उठाया देश का बहुत बड़ा मुद्दा, कहा- संसद में चर्चा के बाद ठोस नीति बनाये मोदी सरकार

- बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा कि सरकार संसद में इस बड़े मुद्दे पर चर्चा करे और ठोस नीति बनाकर इसे सख्ती से लागू करे
- कहा, प्रदूषण के मूल कारणों को समझकर इसपर समुचित ध्यान देना अब बहुत ही जरूरी है, सरकार इसपर तुरन्त प्रभावी ध्यान दे तो बेहतर है

लखनऊ. राजधानी लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के कई शहर खतरनाक प्रदूषण की चपेट में है। ऐसे शहरों में लोगों का सांस लेना भी दूभर है। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया व यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ट्वीट करते हुए प्रदूषण की समस्या के प्रति केंद्र व राज्स सरकार को आगाह किया है। उन्होंने कहा कि प्रदूषण की समस्या के मूल कारणों को समझकर ठोस कदम उठाने की जरूरत है। कहा कि सरकार संसद में प्रूदषण पर चर्चा करे और ठोस नीति बनाकर इसे सख्ती से लागू करे।

बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा कि प्रदूषण देश की राजधानी दिल्ली की ही भयावह समस्या नहीं है, बल्कि पूरा देश व खासकर उत्तर प्रदेश जैसे विशाल जनसंख्या वाले प्रदेश के ज्यादातर शहर इस भयानक समस्या से पीड़ित हैं। इसके मूल कारणों को समझकर इसपर समुचित ध्यान देना अब बहुत ही जरूरी है। सरकार इसपर तुरन्त प्रभावी ध्यान दे तो बेहतर है।

सड़कों पर उतरने को मजबूर हैं लोग
उन्होंने कहा कि वैसे तो सरकारी लापरवाही आदि के कारण प्रदूषण व्यापक जनसमस्या का रूप ले चुका है और लोग इसके खिलाफ सड़कों पर उतरने को मजबूर हो रहे हैं। इसलिए प्रदूषण पर संसद में चर्चा के बाद इस पर ठोस नीति व कार्यक्रम बनाकर इसको सख्ती से लागू करने की जरूरत है जो जनहित का सबसे बड़ा एक काम होगा।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned