कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा अखिलेश राज में यूपी आने से डरते थे बड़े उद्योगपति

कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि अखिलेश राज में प्रदेश में गुंडाराज कायम हो गया था। उद्यमी प्रदेश में कदम रखने से कतराने लगे थे और अब इंटरनेशल कंपनियां अपने उद्यम यूपी में लगा रही हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 13 Jun 2021, 10:05 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ.( Lucknow ) कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा अखिलेश राज में यूपी आने से डरते थे बड़े उद्योगपतिकैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ( akhilesh yadav ) को उद्योगपतियों, व्यापारियों और दुकानदारों का विरोधी बताया है। उन्होंने कहा है कि अखिलेश यादव को कारोबार की समझ नहीं है। कारोबारियों की सोच और उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी नहीं है। यही कारण रहा कि उनके शासनकाल में बड़े उद्योगपति यूपी में निवेश करने से बचते थे। इसकी सबसे बड़ी वजह यह थी कि अखिलेश राज में प्रदेश में गुंडाराज कायम हो गया था।

यह भी पढ़ें: Ram Mandir: निर्माण में तीन तरह के पत्थरों का होगा इस्तेमाल, नींव में मिर्जापुर तो दीवार व परकोटे में राजस्थान का लगेगा पत्थर

कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ( Cabinet Minister Suresh Khanna ) ने यह भी कहा कि अब हालात बदल चुके हैं। सूबे की सरकार ने राज्य में ऐसा औद्योगिक माहौल बना दिया है कि अब राज्य में देश तथा विदेश के बड़े-बड़े उद्योगपति निवेश करने के लिए आ रहें हैं। राज्य सरकार को बड़े उद्योगपतियों से चार लाख करोड़ रुपए से अधिक के निवेश प्रस्ताव मिले हैं। सूबे की योगी सरकार के स्वास्थ्य सेवाओं की तारीफ डब्ल्यूएचओ समेत पूरी दुनिया कर रही है। माइक्रोसॉफ्ट से लेकर आइका जैसे कंपनियां राज्य में अपने उद्यम की स्थापित कर रही हैं। प्रदेश सरकार की औद्योगिक नीतियों तथा मुख्यमंत्री के प्रयास से राज्य में देश तथा विदेश के बड़े -बड़े उद्योगपति 89,408.82 करोड़ रुपए का निवेश कर अपनी फैक्ट्री लगा रहें हैं।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में लगेगी महाराणा प्रताप विशाल प्रतिमा, सीएम योगी करेंगे अनावरण

इतना ही नहीं बड़े-बड़े उद्योगपतियों के कई लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव राज्य में स्थापित करने संबंधी कार्रवाई चल रही है। यह सब इस लिए हो सका है क्योंकि प्रदेश सरकार ने यूपी को गुंडाराज के आतंक से बाहर निकाल कर यूपी को एक औद्योगिक राज्य में बदल दिया है। प्रदेश से गुंडों और माफिया तत्वों को बाहर कर दिया है। प्रदेश सरकार ने छोटे दुकानदारों, ठेला, पटरी पर छोटा मोटा सामान बेचने वालो का विशेष ख्याल रखा है। इन लोगों के सुख दुःख की चिंता करते हुए ही सरकार ने सूबे में संपूर्ण लॉकडाउन नहीं किया और उन्हें अपनी जीविका को चलाते रहने का अवसर दिया। मंत्री ने कहा कि यह सब अखिलेश यादव की समझ में नहीं आएगा क्योंकि उन्हें ना तो कारोबार की समझ है और ना ही वह दुकानदार तथा व्यापारी की दिक्कतों को जानते हैं। उन्हे बस गैर जरूरी बयान देकर अखबरों में बने रहने की आदत बन गई है।

यह भी पढ़ें: यूपी में मॉनसून की दस्तक, लखनऊ सहित कई जिलों में झमाझम बारिश, जानें- अगले दो दिनों का हाल

यह भी पढ़ें: कोरोना मुक्त हुई डासना जेल, जानिए जेल के अंदर बंदियों से कैसे हराया वायरस

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned