मजदूर को घर बैठे मिलेगी खाते खोलने और धन निकालने की सुविधा, जाने पूरी जानकारी

डाक विभाग वित्तीय समावेशन के तहत लोगों के खाते खोलने और घर बैठे राशि निकासी हेतु चलाएगा अभियान -डाक निदेशक केके यादव

By: Ritesh Singh

Updated: 26 Jun 2020, 05:20 PM IST

लखनऊ , Corona महामारी के बीच आमजन को परेशानियों से बचाने हेतु डाक विभाग द्वारा घर-घर जाकर लोगों को न सिर्फ उनके बैंक खातों से पैसे निकालने की सुविधा दी जाएगी, बल्कि उनके नए खाते भी खुलवाए जायेंगे। लखनऊ डाक परिक्षेत्र के अधीन 6 जनपदों में 27 जून को घर बैठे आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से पैसे निकालने, 29 जून को India Post Payments Bank के खाते खुलवाने और 4 जुलाई को डाकघर बचत योजनाओं और सुकन्या समृद्धि योजना के खाते खोलने के लिए वृहद अभियान चलाया जायेगा। उक्त जानकारी लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ Krishna Kumar Yadav ने दी। लखनऊ के साथ-साथ बाराबंकी, सीतापुर, रायबरेली, अयोध्या और अम्बेडकरनगर जनपदों में 'वित्तीय समावेशन' का यह अभियान Social Distancing व पूरी एहतियात बरतते हुए चलेगा।

Postal Director Krishna Kumar Yadav ने बताया कि प्रवासी मजदूर जो विभिन्न राज्यों से वापस आये हैं, उन्हें विशेष रूप से ध्यान में रखते हुए यह अभियान चलाया जा रहा है। ताकि उन्हें धन निकासी में कोई असुविधा न हो और घर बैठे ही उनकी डीबीटी राशि उन्हें उपलब्ध करायी जा सके। डाकियों के पास उपलब्ध माइक्रो एटीएम से प्रतिदिन एक व्यक्ति अपने आधार लिंक्ड बैंक खाते से दस हजार रूपए तक की रकम निकाल सकता है। इस अभियान के दौरान लोगों को ऑनस्पॉट उनके दरवाजे पर ही इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के खाते खोलने की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

सिर्फ आधार नंबर और मोबाईल नंबर के साथ यह खाता पेपरलेस रूप में खुलेगा, किसी भी प्रकार के अन्य कागजात या औपचारिकता की जरूरत नहीं होगी। इससे लोगों को भविष्य में भी घर बैठे आईपीपीबी के माध्यम से डीबीटी राशि प्राप्त करने में आसानी होगी। इस खाते के माध्यम से मोबाईल व डीटीएच रिचार्ज, बिजली व पानी बिल भुगतान जैसी तमाम सुविधाएँ मिलेंगी। Postal Director Krishna Kumar Yadav ने बताया कि लखनऊ परिक्षेत्र में लॉकडाउन से अब तक 5 लाख से अधिक लोगों को लगभग 76 करोड़ रुपये की राशि उनके बैंक खातों से निकालकर घर बैठे डाकिया द्वारा प्रदान की जा चुकी है। साथ ही लखनऊ परिक्षेत्र में अबतक 4 लाख 71 हजार से अधिक लोग India Post Payments Bank के साथ जुड़ चुके हैं और घर बैठे इसकी सेवाओं का लाभ ले रहे हैं।

Postal Director Krishna Kumar Yadav ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकारें विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, जनधन योजना, दिव्यांग पेंशन, मातृत्व वंदन योजना, उज्ज्वला, मनरेगा, पीएम किसान सम्मान निधि इत्यादि की धनराशि कोर बैंकिंग सिस्टम की सहायता से लोगों के बैंक खातों में सीधे पहुँच रही है, परन्तु कई बार समीप में किसी बैंक की ब्रांच, एटीएम अथवा कोई अन्य बैंकिंग सुविधा उपलब्ध नहीं होने के चलते लोग पैसे नहीं निकाल पाते। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए डाक विभाग समय-समय पर इस प्रकार के अभियान चलाकर लोगों को लाभान्वित कर रहा है।

यादव ने कहा कि इसी क्रम में 4 जुलाई को डाकघर बचत योजनाओं और सुकन्या समृद्धि योजना के खाते खोलने के लिए विभिन्न स्थानों पर कैंप लगाकर व डाकघरों में वृहद अभियान चलाया जायेगा। लखनऊ परिक्षेत्र में वर्तमान में 55 लाख से अधिक खाते संचालित हैं और 2.31 लाख पात्र बालिकाओं के सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा चुके हैं।

Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned