खनन घोटाले में ईडी और सीबीआई का बड़ा एक्शन, बी चंद्रकला के बाद दो और आईएएस अफसरों पर कसेगा शिकंजा

खनन घोटाले में ईडी और सीबीआई का बड़ा एक्शन, बी चंद्रकला के बाद दो और आईएएस अफसरों पर कसेगा शिकंजा

Nitin Srivastva | Updated: 14 Jun 2019, 02:37:04 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- खनन घोटाला में बी चंद्रकला से पूछताछ में इन दोनों आईएएस अधिकारियों का सामने आया नाम
- पंचम तल पर तैनात दोनों आईएएस
- सीबीआई और ईडी भेजेगा नोटिस
- गायत्री प्रजापति भी खनन घोटाले में बनाए जाएंगे आरोपी

लखनऊ. अखिलेश यादव की सरकार में हुए खनन घोटाले की जांच के दायरे में अब आईएएस बी चंद्रकला के बाद पंचम तल पर तैनात रहे दो और आईएएस अफसर आ सकते हैं। घोटाले की जांच में जुटे सीबीआई और इंफोर्समेंट डायरेक्टरेट (ईडी) इन दोनों अधिकारियों को पूछताछ के लिए नोटिस जारी करने जा रही है। जांच में पता चला है कि इन दोनों अधिकारियों ने ही हाईकोर्ट के आदेश को अनदेखा करते हुए खनन के पट्टों का रिनीवल करने संबंधित शासनादेश जारी किया था। जिसके चलते हमीरपुर और दूसरे जिलों में जिलाधिकारियों ने खनन के पट्टे देने शुरू कर दिए। जानकारी के मुताबिक सीबीआई औऱ ईडी के लिए घोटाले को तह से सुलझाने के लिए अब इन दोनों अफसरों से पूछताछ करनी जरूरी हो गया है। जिससे पता चल सके कि आखिर किसके इशारे पर खनन के पट्टों का रिनीवल करने का पत्र जारी किया गया।

 

दो और आईएएस पर कसेगा शिकंजा

दरअसल, हमीरपुर खनन घोटाले की जांच के दौरान सीबीआई और ईडी ने कई आरोपियों से पूछताछ की, जिसमें पंचम तल में तैनात दो आईएएस अफसरों का नामों का खुलासा हुआ। जिसके बाद अब इनको तलब करने की तैयारी है। सीबीआई के सूत्रों की अगर मानें तो उस समय हमीरपुर की डीएम रही बी. चंद्रकला से जो पूछताछ की गई थी उसमें भी इन दोनों अधिकारियों का नाम सामने आया। चंद्रकला ने बताया कि खनन के पट्टों के रिनीवल का निर्देश ऊपर से दिया गया था, इसलिए मैंने अपने विवेक का इस्तेमाल नहीं किया। मुझे इस मामले में हाईकोर्ट के आदेश की भी कोई जानकारी नहीं थी। चंद्रकला से पूछताछ के बाद सीबीआई ने उस अनुसचिव को भी तलब किया जिसने ये आदेश जारी किए थे। अनुसचिव ने भी पूछताछ में इन्हीं दोनों अधिकारियों का नाम लिया।

 

गायत्री प्रजापति भी बनेंगे आरोपी

सीबीआई की मानें तो पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के अमेठी स्थित ठिकानों पर छापेमारी में घोटाले से जुड़े कई सुबूत मिले हैं। इसके अलावा अवैध खनन से कमाई गई करोड़ों रुपये की संपत्तियों के निवेश से जुड़े दस्तावेज भी मिले है। जल्द ही गायत्री को भी घोटाले का आरोपी बनाया जाएगा। दरअसल इससे पहले दर्ज हुई एफआईआर में सीबीआई ने तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रजापति पर भी शक जताया था। सीबीआई टीम ने इसी क्रम में गायत्री प्रजापति के ठिकाने पर छापेमारी कर सारे सुबूत इकट्ठा किए हैं और दिल्ली वापस चली गयी है। अब जल्द ही सीबीआई और ईडी की टीम तमाम आरोपियों को फिर से पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाने की तैयारी कर रही है।

 

आईएएस से तीन घंटे पूछताछ

वहीं खनन घोटाले में सीबीआई ने लखनऊ के बटलर पैलेस कॉलोनी में रहने वाले एक आईएएस अधिकारी पर भी छापा मारा था। सीबीआई की टीम आईएएस के घर पर करीब तीन घंटे रही और खनन घोटाले से सबूतों इकट्ठा करने के साथ उनसे गहन पूछताछ भी की।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned