यूपी को केन्द्र ने पीएम आवास योजना और मनरेगा के लिए दिए दो हजार करोड़

पेयजल आपूर्ति हेतु 142 करोड़ रुपये, 250 किलोमीटर गांवों की बनेंगी सड़कें

By: Anil Ankur

Published: 04 Jan 2018, 08:55 PM IST


लखनऊ. केन्द्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 9 माह में उप्र ग्राम्य विकास विभाग के अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं की उल्लेखनीय प्रगति की प्रशंसा की है और उत्तर प्रदेश को एक बड़ी रकम का तोहफा दिया है।
ग्राम्य विकास मंत्री Mahendra Singh ने आज केन्द्रिय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री सुश्री उमा भारती से दिल्ली में मुलाकात की और प्रदेश के पेयजल संकट व पेयजल आपूर्ति सम्बन्धी समस्याओं से अवगत कराते हुए केन्द्रीय सहायता का अनुरोध किया। इस सम्बन्ध में अधिकारियों के साथ एक बैठक भी हुई, जिसमें उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास अनुराग श्रीवास्तव भी शामिल थे।

सुश्री उमा भारती ने महेन्द्र सिंह के अनुरोध पर UP में पेयजल आपूर्ति हेतु 142 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की। इसके अलावा उन्होंने विभागीय योजनाओं को पूर्ण करने के लिए आवश्यक धनराशि दिये जाने का आश्वासन भी दिया। साथ ही उन्होंने बुन्देलखण्ड तथा पंेयजल संकट से जूझ रहे इसके समान अन्य जनपदों की पेयजल सम्बन्धी समस्याओं के समाधान के लिए नीति आयोग से बात करके विशेष पैकेज दिलाने की बात कही।

ग्राम्य विकास मंत्री द्वारा जेई/एईएस प्रभावित जनपदों का मुद्दा उठाये जाने पर सुश्री उमा भारती ने कहा कि दिमागी बुखार से प्रभावित जनपदों को इस बीमारी पर काबू पाने के लिए विशेष धन भी दिया जायेगा। इसके साथ ही जेई/एईएस बीमारी पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित करने के लिए दिल्ली से एक विशेष टीम भेजी जायेगी।

महेन्द्र सिंह ने इसके पश्चात केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव अमरजीत सिन्हा से भेंट की। उन्होंने उत्तर प्रदेश में ग्राम्य विकास द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से अवगत कराया और केन्द्रीय सहायता दिये जाने का अनुरोध किया।

महेन्द्र सिंह के आग्रह पर ग्रामीण विकास मंत्रालय ने मनरेगा योजना के संचालन के लिए एक हजार करोड़ रुपये तथा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के लिए एक हजार करोड़ रुपये दिये जाने की स्वीकृति प्रदान की। इसके आलावा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत 2400 किमी0 सड़क दिये जाने की स्वीकृति भी प्रदान की गई।

Anil Ankur Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned