अब नहीं करना होगा बसों का घंटो इंतज़ार live chalo app से मिलेगी पल पल की जानकारी जाने कैसे

यात्रियों के लिए खुशखबरी

By: Mahendra Pratap

Published: 19 Jan 2019, 02:13 PM IST

ritesh singh

लखनऊ,लखनऊ के लिये चलो एॅप को आज शहर की महापौर संयुक्ता भाटिया ने लॉन्च किया। इसकी परिकल्पना अर्बन मास ट्रांजि़ट कंपनी लिमिटेड (यूएमटीसी) और लखनऊ नगर निगम (एलएमसी) के नेतृत्व में लखनऊ सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज़ लिमिटेड (एलसीटीएसएल) के साथ की गई है।

चलो, एक निशुल्क मोबाइल app है, जो सार्वजनिक परिवहन में क्रांति लेकर आया है और दैनिक यात्रा की योजना बनाने में लोगों की सहायता करता है। इस app से लाखों बस यात्रियों का प्रतिदिन 40 मिनट तक समय बचेगा और वह अपने गंतव्य के लिये सबसे सस्ते यात्रा विकल्प ढूंढकर पैसे भी बचा सकेंगे।

chalo app से लखनऊ के यात्री निम्नलिखित लाभ उठा पाएंगे

अपनी बस के आगमन का समय पता लगाना, ताकि उसी के अनुसार बस स्टॉप पर पहुँचें

> मैप पर अपनी बस की लाइव जीपीएस स्थिति को ट्रैक करना

> सबसे सस्ते और सबसे तेज यात्रा विकल्प खोजना, जिसमें उनके गंतव्य के लिये बस के सारे मार्ग होंगे

> एक मल्टी-मॉडल ट्रिप प्लानर की सहायता से डोर-टू-डोर ट्रिप की योजना

> इमरजेंसी एसओएस के ज़रिए दोस्तों एवं परिवार के साथ लाइव ट्रिप शेयरिंग जैसी खूबियों के साथ सुरक्षापूर्वक यात्रा

> सबसे नजदीकी बस स्टॉप को लोकेट करना

chalo app को लॉन्च कर लखनऊ यूपी का पहला शहर बन गया है, जहां यात्रियों को परिवहन का स्मार्ट विकल्प दिया जा रहा है। जो दुनिया के प्रमुख शहरों के अनुसार है। chalo app से न केवल बस यात्रियों का मूल्यवान समय बचेगा, बल्कि सार्वजनिक परिवहन के उपयोग से यातायात सघनता, कार्बन उत्सर्जन, बस अड्डों पर भीड़-भाड़ भी कम होगी, जो कि लखनऊ जैसे शहर के लिये बड़ी चुनौतियाँ हैं।

लखनऊ के बस यात्री गूगल प्ले स्टोर से चलो एॅप को निःशुल्क डाउनलोड कर फौरन इसका अनुभव ले सकते हैं।

अर्बन मास ट्रांजि़ट कंपनी (यूएमटीसी) के विषय में

यूएमटीसी एक अग्रणी शहरी परिवहन कंपनी है, जो शहरी परिवहन के स्थायी समाधान विकसित करने पर केन्द्रित है। इस कंपनी ने राज्य सरकारों, ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग्स और अर्बन लोकल बॉडीज़ (यूएलबी) के साथ भागीदारी की है, ताकि कम लागत वाले, सुगम और खोजपरक परिवहन समाधान अपनाये जा सकें।

यूएमटीसी परिवहन एवं गतिशीलता योजनाओं, यातायात इंजिनियरिंग, परिचालन उपयोग, नीति निर्माण, आदि विषयों पर उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों, विकास प्राधिकरणों और निगमों के साथ कार्यरत है। यूएमटीसी खासतौर से विभिन्न परियोजनाओं के लिये लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, मेरठ, आगरा, मथुरा और नोएडा से जुड़ा है। यूएमटीसी अपनी डोमैन विशेषज्ञता का उपयोग करता है और उभरती/स्थापित प्रौद्योगिकी की स्थापना हेतु योगदान देने के लिये गठबंधन करता है।

जानते हैं chalo app के विषय में

चलो एक निःशुल्क मोबाइल एॅप है, जिसे प्रौद्योगिकी-आधारित परिवहन समाधान कंपनी ज़ॉपहॉप टेक्नोलॉजीज़ प्राइवेट लिमिटेड ने डेवलप किया है, ऑर जिसका लक्ष्य यात्रा को सभी के लिये बेहतर बनाना है। यह एॅप खासतौर से उन यात्रियों के लिये बनाया गया है। जो बस, रेलगाड़ी और सार्वजनिक परिवहन के अन्य रूपों पर निर्भर रहते हैं। इससे यूज़र एक मैप पर अपनी बस की लाइव ट्रैकिंग कर सकते हैं, अपने बस स्टॉप पर बस के आगमन का समय जान सकते हैं और एक मल्टी-मॉडल ट्रिप प्लानर की सहायता से डोर-टू-डोर यात्रा की योजना बना सकते हैं। chalo app गूगल प्ले स्टोर पर निःशुल्क उपलब्ध है।

 

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned