चाणक्य नीति - आज ही त्यागें ये 5 आदतें

Chanakya Niti- आचार्य चाणक्य बताते हैं की इन 5 बुरी आदतों को जल्द से जल्द त्याग देना चाहिए।

By: Sandhya Jha

Published: 11 Sep 2021, 10:36 AM IST

आचार्य चाणक्य महान कूटनीतिज्ञ, अर्थशास्त्री और रणनीतिकार थे। इनके द्वारा रचित चाणक्य नीतिशास्त्र आज भी लोगों को प्रेरित करती है। इसमें जीवन को सुखमय और सफल बनाने के लिए कई सुझाव दिए गए हैं। आचार्य चाणक्य ने अपने नीतिशास्त्र में ऐसी 5 आदतों के बारे में बताया है जो किसी भी व्यक्ति की बर्बादी का कारण बन सकती है और जिसे जल्द से जल्द त्याग देने में ही भलाई है।

आलस

चाणक्य कहते हैं कि आलस व्यक्ति का सबसे बड़ा शत्रु है और इससे हमेशा नुकसान उठाना पड़ता है। चाणक्य निति के अनुसार व्यक्ति को हमेशा अनुशासन के साथ जीना चाहिए और हर कार्य को निश्चित समय पर करना चाहिए। आलस से दूर रहना चाहिए ताकि हर काम समय पर और सही ढंग से पूरा हो सके।

लापरवाही

दूसरी आदत जो किसी भी व्यक्ति की बर्बादी का कारण बन सकती है वो है लापरवाही। चाणक्य कहते हैं कि किसी भी काम को करने से पहले व्यक्ति को उसके बारे में पूरी जानकारी रखनी चाहिए और सब जान समझ के ही उसे करना चाहिए। यदि आप कोई ऐसा काम करने जा रहे हैं जिसकी आपको उचित जानकारी नहीं है तो ऐसे में किसी अनुभवी व्यक्ति की सलाह लेने से पीछे नहीं हटना चाहिए।

गलत संगत

चाणक्य नीति अनुसार व्यक्ति को हमेशा गलत संगत से दूर रहना चाहिए। क्योंकि व्यक्ति जैसी संगत में रहता है वैसा ही बनता है। बुरी संगत में फसे व्यक्ति का जीवन धीरे-धीरे अंधकार की तरफ बढ़ता चला जाता है। गलत संगत व्यक्ति को उसके लक्ष्य से भटकाने का काम करती है।

नशा

अत्याधिक नशा करने की आदत किसी भी व्यक्ति के जीवन को बर्बाद कर सकती है। नशे से केवल आर्थिक हानि ही नहीं बल्कि मानसिक और शारीरिक हानि भी होती है। नशा करने वाला व्यक्ति गलत संगत में पड़ सकता है जिससे वह अपने भविष्य को खराब कर लेता है।

काम

काम का मतलब यहां यौन-क्रिया से है। चाणक्य नीति के अनुसार जिन लोगों को काम की बुरी लत लग जाती है, उनका जीवन बर्बाद हो जाता है। इससे व्यक्ति के मानसिक और शारीरिक दोनों स्वास्थय पर असर पड़ता है इसलिए इस आदत का तुरंत त्याग कर देने में ही भलाई है।

Sandhya Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned