मुख्यमंत्री ने 2000 आईसीयू बेड तत्काल तैयार करने का दिया निर्देश,पढ़िए पूरी खबर

कोविड-19 कमांड कंट्रोल रूम समेत कई अन्य अस्पतालों में व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

By: Ritesh Singh

Published: 11 Apr 2021, 04:21 PM IST

लखनऊ कोरोना मरीजों की संख्या 24 घंटे में 4000 के पार होने के बाद सीएम योगी ने अधीनस्थ अधिकारियों को संक्रमण पर नियंत्रण के लिए सख्ती बरतने का निर्देश जारी किया है। साथ ही साथ तत्काल रूप से लखनऊ में कोरोना मरीजों के लिए न्यूनतम दो हजार कोविड-19 आइसीयू उपलब्ध कराने का निर्देश जारी किया है। इतने ही बेड लेवल-2 के लिए भी करने का निर्देश दिया है। शनिवार को उन्होंने कोविड-19 कमांड कंट्रोल रूम समेत कई अन्य अस्पतालों में व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

इस दौरान एरा मेडिकल काॅलेज, टीएस मिश्रा मेडिकल काॅलेज व इंटीग्रल मेडिकल काॅलेज को पूर्ण रूप से डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में परिवर्तित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बलरामपुर अस्पताल में 300 बेड का डेडीकेटेड कोविड अस्पताल रविवार को सुबह से कार्यशील कर दिया जाए। यहां मैन पावर की व्यवस्था के साथ ही वेंटिलेटर व एचएफएनसी सुविधा हो।

सीएम ने कहा लखनऊ में व्यापक काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए हुए कम से कम 30 से 35 लोगों को ट्रेस कर कोविड टेस्ट करें। साथ हो इन्टीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेन्टर को एम्बुलेन्स सेवाओं से जोड़ा जाए। प्रत्येक गांव तथा हर नगर निकाय के वाॅर्ड में निगरानी समितियों को सक्रिय करें। स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फाॅगिंग की कार्यवाही व्यापक पैमाने पर कराएं।

पुलिस आयुक्त लखनऊ में पब्लिक एड्रेस सिस्टम को प्रभावी ढंग से संचालित करायें।धर्म स्थलों में 05 से अधिक लोगों को एक साथ प्रवेश की अनुमति न दी जाए। बाजारों में शारीरिक दूरी का पालन कराया जाए। मास्क का प्रयोग न करने वालों के विरुद्ध कार्यवाही की जाए। यह कार्यवाही सद्भावपूर्ण एवं प्रेरक होनी चाहिए। कंटेनमेन्ट जोन में आवागमन को प्रतिबन्धित किया जाए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सा शिक्षा मंत्री व प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा व स्वास्थ्य मंत्री संबंधित अस्पतालों का दौरा कर उसे कोविड-19 बनवाएं।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned