मुख्यमंत्री जनआरोग्य मेले में एक ही दिन आये 5 लाख रोगी, अब तक 17.1 लाख को मिला इलाज

हजार से अधिक गम्भीर रोगियों को बड़े अस्पतालों को रेफर किया जा चुका।

लखनऊ।उत्तर प्रदेश के समस्त नागरिकों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शुरू किए गए ‘मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला’ के अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। मेले में आने वाले मरीजों की संख्या को देखकर यह बात साफ होती है कि अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध पहुंचाने के उद्देश्य से शुरू किया गया यह मेला कारगर साबित हो रहा है। प्रदेश भर में अब तक आयोजित हुए चार मेलों में कुल 17.1 लाख रोगी लाभान्वित हो चुके हैं, 55 हजार से अधिक गम्भीर रोगियों को बड़े अस्पतालों को रेफर किया जा चुका।

यह मेला प्रदेश के 4200 से ज्यादा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर प्रत्येक रविवार को आयोजित किया जा रहा है। इसी क्रम में आज आयोजित हुए मेले का शुभारम्भ मुख्यमंत्री योगी ने अयोध्या के दर्शन नगर में सूर्य कुंड से किया। प्रदेश के चौथे आरोग्य मेले में एक ही दिन में 5.02 लाख रोगी (पुरुष 1.7 लाख, महिलाएं 2.4 लाख, और बच्चे 0.9 लाख) लाभान्वित हुए। मेले में 12345 गम्भीर रोगियों को इलाज के लिए बड़े अस्पतालों को रेफर किया गया। मेले के दौरान 36439 गोल्डन कार्ड वितरित किए गए। इस दौरान कुल 10741 चिकित्सक,41524 पैरामेडिकल स्टाफ एवं 20113 आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने अपनी सेवाएं दी। अब तक आयोजित हुए चार मेलों में 1.31 लाख गोल्ड कार्ड बनाए गए हैं।

बता दें कि रोगों के रोक-थाम एवं नियंत्रण तथा असाध्य रोगों को उनके प्रारंभिक अवस्था में ही चिन्हित किये जाने को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने दो फरवरी को ‘मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला’ की शुरुआत की थी। जिसे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ चिकित्सा शिक्षा, महिला एवं बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग व पंचायती राज विभाग के साथ को इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन का सहयोग प्राप्त है। इन मेलों में बीमारियों की जांच के साथ ही इलाज की सभी सुविधाएं मरीजों को एक ही जगह पर मिल रही हैं।

BJP
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned