हाई-वे, बाजारों तथा पार्कों में सघन पेट्रोलिंग करें करने के निर्देश : मुख्यमंत्री

अस्पतालों की इमरजेंसी सेवाओं में मरीजों के उपचार तथा आवश्यक आॅपरेशन कार्यवाही की दैनिक समीक्षा की जाए

By: Ritesh Singh

Published: 01 Jun 2020, 06:13 PM IST

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के Chief Minister Yogi Adityanath ने भारत सरकार के दिशा निर्देशों का पूरी तरह पालन सुनिश्चित कराते हुए अनलाॅक व्यवस्था के प्रभावी संचालन के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पूरी सावधानी और सर्तकता बरतते हुए सभी आर्थिक, व्यावसायिक एवं औद्योगिक गतिविधियों का संचालन कराया जाए। बाजारों में भीड़ एकत्र होने के दृष्टिगत उन्होंने सुरक्षा और पेट्रोलिंग की प्रभावी व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

Chief Minister आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। राजस्व वृद्धि पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि जून माह में लक्ष्य के अनुरूप राजस्व प्राप्ति के लिए गम्भीरता से प्रयास किए जाएं। उन्होंने हाई-वे, बाजारों तथा पार्कों में सघन पेट्रोलिंग करने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी जगह सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन कराया जाए। कहाकि Quarantine Center तथा कम्युनिटी किचन व्यवस्था को पूर्व की भांति सुचारु रूप से संचालित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश आने वाले कामगारों,श्रमिकों को Quarantine Center ले जाकर उनकी मेडिकल स्क्रीनिंग की जाए। स्क्रीनिंग में स्वस्थ पाए गए कामगारों,श्रमिकों को अनिवार्य रूप से राशन किट उपलब्ध कराते हुए होम क्वारंटीन के लिए घर भेजा जाए।
अस्वस्थ लोगों के उपचार के प्रबन्ध किए जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि कामगारों/श्रमिकों को समयबद्ध ढंग से राशन किट तथा भरण-पोषण भत्ता उपलब्ध करवाया जाए। उन्होंने सभी जरूरतमंदों को खाद्यान्न उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में कोई भूखा न रहे। निर्देश दिए कि समस्त अस्पतालों में साफ-सफाई सहित अन्य सभी व्यवस्थाएं चुस्त-दुरुस्त हों, ताकि मरीजों को कोई असुविधा न होने पाए।

अस्पतालों में खास सफाई का रखा जाए ध्यान

मुख्यमंत्री ने कहा कि बेड शीट प्रतिदिन बदली जाए। अस्पतालों में सुचारु विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। डाॅक्टर एवं नर्सिंग स्टाफ नियमित राउण्ड लें। समय से मरीजों को दवा उपलब्ध कराई जाए। अपनी पाली में ड्यूटी ज्वाइन करते समय तथा ड्यूटी समाप्त होने के पूर्व डाॅक्टर तथा नर्स द्वारा अनिवार्य रूप से राउण्ड लेते हुए मरीजों के उपचार के सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाई की जाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग को कोविड अस्पतालों की व्यवस्था बेहतर से बेहतर करने के निर्देश देते हुए कहा कि मरीजों को समुचित उपचार उपलब्ध कराकर मृत्यु पर रोक लगाने पर ध्यान देना होगा। साथ ही निर्देश दिए कि पूरे प्रदेश में जनपद स्तर पर नई टेस्टिंग लैब की स्थापना की कार्यवाही को और तेज किया जाए। उन्होंने कहा कि तात्कालिक जरूरतों को ध्यान में रखते हुए इन लैब्स को क्रियाशील करने पर फोकस किया जाए। उन्होंने नाॅन कोविड अस्पतालों में मरीजों की उपचार सम्बन्धी गतिविधियों में वृद्धि करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी अस्पतालों की इमरजेंसी सेवाओं में मरीजों के उपचार तथा आवश्यक आॅपरेशन कार्यवाही की दैनिक समीक्षा की जाए।

ग्रामीण व शहरी इलाकों में रखी जाए नज़र

Chief Minister ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने में निगरानी समितियां की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसके दृष्टिगत ग्रामीण व शहरी इलाकों में निगरानी समितियों को सक्रिय रखा जाए। स्वच्छता अभियान में स्वच्छाग्रहियों ने उपयोगी योगदान दिया है। इसे ध्यान में रखते हुए निगरानी समितियों में स्वच्छाग्रहियों को भी सम्मिलित किया जाए। इस सम्बन्ध में पंचायतीराज तथा ग्राम्य विकास विभागों द्वारा आवश्यक कार्यवाई की जाए। उन्होंने कहा कि प्रभावी सर्विलांस व्यवस्था से इन्ट्रा-स्टेट बस सेवा सहित विभिन्न गतिविधियों को प्रारम्भ करने में आसानी होगी। उन्होंने नोडल अधिकारियों से क्वारंटीन सेन्टर, कम्युनिटी किचन तथा कोविड अस्पतालों में साफ-सफाई सहित अन्य विषयों के सम्बन्ध में निरन्तर फीडबैक प्राप्त किए जाने के निर्देश भी दिए।

Chief Minister ने निर्देश दिए कि आज से रेल सेवा के प्रारम्भ होने के दृष्टिगत सभी रेलवे स्टेशनों पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। स्टेशन पर प्रशासन, पुलिस तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी अनिवार्य रूप से तैनात हों। स्टेशन पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग की जाए। रेलवे स्टेशन पर हर यात्री को कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में हैण्डबिल उपलब्ध कराया जाए। Chief Minister ने कहा कि अधिक से अधिक रोजगार के अवसर सृजित करने के उद्देश्य से Sick Industrial Units को क्रियाशील करने की कार्य योजना तैयार की जाए। इसके लिए ऐसी औद्योगिक इकाइयों की मैपिंग की जाए। उन्होंने आम के निर्यात के सम्बन्ध में कार्य योजना बनाने के निर्देश भी दिए।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned