यूपी के कोरोनाग्रस्त टॉप थ्री जिलों में मुख्यमंत्री ने तेज तर्रार अफसरों को भेजा

कोविड केयर की कमान तीन वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को सौंप दिया है।

By: Ritesh Singh

Published: 10 May 2020, 07:53 PM IST

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा तबाह तीन मंडल मुख्यालयों पर संक्रमण पर लगाम कसने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने तेज तर्रार और शख्त अफसरों की टीम बना कर तैनात किया है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आगरा, मेरठ और कानपुर पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया है। उन्होंने टीम "11" की बैठक में मुख्यसचिव, प्रमुख सचिवगृह, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य व अन्य अधिकारियों से कहा है कि आगरा, कानपुर, मेरठ और की विशेष समीक्षा करें। इन जनपदों में तैनात नोडल अधिकारी प्रतिदिन सुबह व शाम अपनी रिपोर्ट शासन को भेंजे। उन्होंने कहा कि इन तीनों जनपदों में लाकडाउन का पालन सख्ती से हो। साथ ही तीनों जनपदों में कोविड केयर की कमान तीन वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को सौंप दिया है।

उन्होंने टीम 11 के साथ बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिया कि बाहरी राज्यों से आने वाले कामगारों व श्रमिकों की सकुशल वापसी कराई जाए। ध्यान रहे कि कानपुर, मेरठ और आगरा में लॉकडाउन का पालन कराने पर बल दिया। योगी के निर्देश पर इन तीन जनपदों में कोविड केयर की कमान तीन वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को दे दिया गया है। कानुपर में उप्र राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के एमडी कुशल प्रशासक अनिल गर्ग और आईजी दीपक रतन को तैनात किया गया है। जबकि आगरा में प्रमुख सचिव अवस्थापना आलोक कुमार और आईजी विजय कुमार की तैनाती की गई है।

मेरठ की कमान सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव टी.वेंकटेश और पीएसी की आईजी लक्ष्मी सिंह को दी गई है। इन सभी के साथ स्वास्थ्य विभाग के भी दो वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती के आदेश हुए हैं। सीएम योगी ने इन जनपदों से हर दिन सुबह और शाम को रिपोर्ट लेने का आदेश दिया है। बता दें कि आगरा में कल देर रात तक कोरोना पॉजीटिव रोगियों की संख्या 743 हो गयी थी अब 22 लोगों की मौत हो चुकी है।मेरठ में 244 कोरोनाग्रस्त रोगी हैं। 14 लोगों की मौत हो चुकी है। कानपुर में तेजी से 294 कोरोनाग्रस्त रोगी बढ़े हैं तथा 6 लोगों की मौत हुई है।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned