मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को किया तलब,मीटिंग के बाद डीएम अभिषेक प्रकाश आये एक्शन में

कोरोना मरीज दर दर भटक रहे है।अस्पतालों में ट्रोनेट मशीने लगाई है उनको और लगाना पड़ेगा।

By: Ritesh Singh

Updated: 20 Jul 2020, 02:12 PM IST

लखनऊ ,राजधानी के लगातार कोरोना मरीजों की तादात बढ़ती देख कर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने चिंता जताई और रविवार को अधिकारियो को अपने सरकारी आवास पांच कालिदास पर तालाब किया।कल ही मुख्यमंत्री ने कमिश्नर औऱ लखनऊ डीएम को किया था तलब।सीएम के सख्त निर्देश के बाद लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश आये एक्शन में और डीएम अभिषेक प्रकाश पहुचे सीएमओ कार्यलय और सीएमओ कार्यलय का निरीक्षण लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों को लगाई फटकार और बोले सभी पॉजिटिव व्यक्तियों को तत्काल कोविड हॉस्पिटल/कोविड केयर सेंटर में भर्ती करने के दिए निर्देश लापरवाही बरतने पर होगी कड़ी कार्यवाही वही डीएम ने कहा की विशेष टीम लगाकर डोर टू डोर जाकर टीम जाँच सेनेटाइज के साथ टीम टेस्ट भी कर रही है।

अगर टेस्ट में कोरोना मरीज पाया जाता है तो दो घंटे में मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। लेकिन डीएम अभिषेक प्रकाश के दावे खोखले साबित हो रहे है अस्पतालों में बेड फुल हो गए है मरीजों को एक अस्पातल से दूसरे अस्पातल भेजा जा रहा है वही एम्बुलेंस भी नहीं पहुँच रही है जो लोग कोरोना पॉजिटिव है कोरोना मरीज दर दर भटक रहे है।अस्पतालों में ट्रोनेट मशीने लगाई है उनको और लगाना पड़ेगा।

और टेस्टो को और बढ़ाना पड़ेगा।अगर राजधानी लखनऊ के यह हाल है तो बाकि का अंदाजा लगाया जा सकता है। अधिकारीयो ने सीएम के सामने तथ्य सामने सख्ते है वह गुमराह करने वाले है। लगातार मंत्री अस्पतालों में निरीक्षण कर रहे है उनको खामिया दिखाई दे रही है आखिरकार रविवार को मुख्यमंत्री ने अधिकारियो को तलब किता था और नाराजगी जाहिर की थी।अगर ऐसे ही कोरोना मरीज की तादात कम नहीं हुई तो जल्द लॉक डाउन की स्तिथि आ सकती है।

Corona virus
Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned