मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ब्यान पर लखनऊ के मौलाना नाराज़

Hariom Dwivedi | Publish: May, 19 2019 06:24:22 PM (IST) | Updated: May, 19 2019 06:39:06 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

लखनऊ के शिया समुदाय के लोग नाराज़

Ritesh Singh
लखनऊ। लगातार अपने बयानों से विवादों में बने रहने वाले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने एक बार फिर अपने बयान से विवाद पैदा कर दिया है। दुर्गा पूजा और मोहरर्म के जुलूस को लेकर योगी आदित्यनाथ का बयान अब तूल पकड़ता नज़र आ रहा है ।

आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के मेंबर और शिया धर्मगुरु मौलाना यासूब अब्बास ने योगी के बयान की सख़्त अल्फ़ाज़ में निंदा की है। उन्होंने कहाकि पश्चिम बंगाल में योगी आदित्यनाथ ने एक रैली को सम्बोधित करते एव ममता बनर्जी की सरकार को अपने भाषण के दौरान घेरते हुए कहा था कि पूरे मुल्क में, दुर्गा पूजा और मुहर्रम एक ही दिन पड़ते हैं ।

यूपी के अफसरों ने मुझसे पूछा, क्या हमें पूजा का वक़्त बदलना चाहिए मैंने कहा, पूजा का वक़्त नहीं बदला जाएगा, अगर आप वक़्त बदलना चाहते हैं, तो मुहर्रम के जुलूस और ताजिये का वक्त बदल दें। योगी के इस बयान पर शिया उलमा काफी नाराज नज़र आ रहे है इसी के चलते आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के सद्स्य मौलाना यासूब अब्बास ने भी नाराज़गी का इज़हार करते हुए कहा हैकि बड़े ही अफसोस कि बात है की यूपी के सीएम ने मोहरर्म के जुलूसों को एक बार फिर से निशाना बनाया हैं।उन्होंने कहाकि कभी अली और कभी बजरंगबली कभी मोहर्रम के जुलूसों को लेकर बयां जारी करते हैं।

यासूब अब्बास ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को प्रेस के माध्यम से कहा कि पहले आप अवध की तारीख़ पढ़िए अवध के हाकिम और बादशाहओ ने किस तरीके से दूसरे कल्चर को फॉलो करके हिंदुओं के मज़हबी जज़्बात को बनाये रखा जबकि महाराष्ट्र, बॉम्बे में भी शिवसेना अज़ादारी के जुलूसों का बड़े पैमाने पर एहतिमाम करती है। मोहर्रम का जुलूस किसी हकीम के बयान से रोकने वाले नही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned