होमगार्ड भर्ती में हुआ बड़ा बदलाव, बढ़ेगा प्रशिक्षण का समय और मिलेगा मुआवजा

होमगार्ड की भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए 12वीं पास होना जरूरी है। इस संबंध में विभागीय मंत्री चेतन चौहान ने मीडिया को संबोधित करते हुए जानकारी दी।

लखनऊ. होमगार्ड की भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए 12वीं पास होना जरूरी है। इस संबंध में विभागीय मंत्री चेतन चौहान ने मीडिया को संबोधित करते हुए जानकारी दी। मंत्री बैठक के पहले मीडिया को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अब पोर्टल के जरिए आवेदन किया जा सकता है। बता दें कि चेतन चौहान सैनिक कल्याण, होमगार्डस, प्रान्तीय रक्षक दल एवं नागरिक सुरक्षा मामलों के मंत्री हैं। होमगार्ड विभाग के मंत्री चेतन चौहान ने कहा कि होमगार्ड का मानदेय अब सिपाही के न्यूनतम वेतन के बराबर हो गया है। ऐसे में आने वाले दिनों में जब होमगार्ड के रिक्त पदों के लिए भर्तियां होंगी तो उसमें भी हाईली क्वालिफाइड लोग आवेदन करेंगे। चेतन चौहान ने कहा कि फिलहाल यूपी में होमगार्ड के स्वीकृत पद 1 लाख 18 हजार 348 हैं। इसमें 99 हजार ड्यूटी कर रहे हैं। शेष 19 हजार रिक्त पदों पर भर्ती के लिए वित्त विभाग से स्वीकृति मांगी जाएगी और नए नियमों के तहत इसमें भर्तियां की जाएंगी।

उन्होंने कहा कि होमगार्ड की इमेज पिछले दो-ढाई सालों में बदली है। होमगार्ड का आधुनिकीकरण हो रहा है। पहले जहां थ्री नॉट थ्री राइफल दी जाती थीं, वहीं उन्हें अब इंसास राइफल दी जा रही है, जिसकी ट्रेनिंग चल रही है। उन्होंने कहा कि होमगार्ड यूपी 100 और पुलिस महकमे में महत्वपूर्ण स्थानों पर अपनी ड्यूटी दे रहे हैं। चौहान ने कहा कि उनकी मंशा होमगार्ड को चुस्त और दुरुस्त बनाने की है।

प्रशिक्षण का समय बढ़ेगा

अभी तक प्रशिक्षण के लिये 42 दिन मिलता था जोकि बढ़ाया जाएगा। मंत्री ने कहा कि फिलहाल प्रशिक्षण के लिए 42 दिन मिलता है, इसे और बढ़ाए जाने की जरूरत है। उनकी कोशिश है कि कम से कम 62 दिन का प्रशिक्षण का समय होमगार्ड को दिया जाए। साथ ही हर तीन साल में अलग से प्रशिक्षण कराया जाए। चेतन चौहान ने कहा कि बीते एक साल में एक भी धरना प्रदर्शन होमगार्ड द्वारा नहीं किया गया है। उनकी जो भी शिकायतें हैं, उनको पोर्टल के जरिए मंगा कर उनका समाधान निकाला जा रहा है।

शहीद होमगार्डों को मिलेगा मुआवजा

चेतन चौहान ने कहा कि बीते लोकसभा चुनाव के दौरान कुल 15 होमगार्ड के जवान शहीद हुए। इन होमगार्ड को 15-15 लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा। इसमें से चुनाव आयोग 10 लाख रुपये और होमगार्ड विभाग 5-5 लाख रुपये देगा।

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned