UP में रक्षा उत्पादों के लिए 3700 करोड़ रु. के निवेश की घोषणा

UP में रक्षा उत्पादों के लिए 3700 करोड़ रु. के निवेश की घोषणा

Anil Ankur | Publish: Aug, 12 2018 11:57:01 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

समिट में 19 कम्पनियों द्वारा रक्षा उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गयी

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने UP में रक्षा उत्पादों के लिए लगभग 3700 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की । रक्षा उत्पादों एवं गुणवत्ता में सुधार के लिए उत्तर प्रदेश डिफेन्स इण्डस्ट्रियल कॉरिडोर परियोजनाओं में हिन्दुस्तान एयरोनाॅटिकल लि द्वारा 1200 करोड़ रुपए, आॅर्डिनेन्स फैक्ट्री बोर्ड द्वारा 1077 करोड़ रुपए, एमके उद्योग द्वारा 900 करोड़ रुपए, भारत इलेक्ट्राॅनिक्स लि0 द्वारा 240 करोड़ रुपए, भारत फोर्ज लि0 द्वारा 200 करोड़ रुपए एवं पीटीसी द्वारा 115 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की गयी।

UP में उद्योग स्थापना एवं निवेश के लिए बेहतर माहौल
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में उद्योग स्थापना एवं निवेश के लिए बेहतर माहौल देते हुए निवेशकों एवं उद्यमियों के लिए प्रदेश सरकार रक्षा और एयरोस्पेस निर्माण नीति के तहत रक्षा उत्पाद के लिए आकर्षक स्थलों के साथ व्यापार अनुकूल वातावरण निवेशकों को उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश निवेशकों के लिए आकर्षक गंतव्य है। पूर्व सरकारों में लोग यहां निवेश करने से कतरातेे थे।

4.28 लाख करोड़ रुपए के एमओयू पर हस्ताक्षर
मुख्यमंत्री ने कहा कि 21 व 22 फरवरी को ‘उ0प्र0 इन्वेस्टर्स समिट-2018’ में 4.28 लाख करोड़ रुपए के एमओयू पर हस्ताक्षर किए गये थे, जिसे 5 माह के अल्प समय में धरातल पर लाते हुए लखनऊ में आयोजित ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी में प्रधानमंत्री द्वारा 60 हजार करोड़ रुपए की कुल 81 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है। उन्होंने कहा कि अलीगढ़ न सिर्फ ताले, बल्कि हार्डवेयर के लिए भी प्रसिद्ध होना चाहिए था, लेकिन विगत सरकारों ने कभी अलीगढ़ के इस हुनर को नहीं समझा।

आगरा, झांसी एवं चित्रकूट में विकास की सम्भावनाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्योगों के विकास के लिए आगरा-चित्रकूट एक्सप्रेस-वे बनाया जाएगा, जिससे आगरा, झांसी एवं चित्रकूट में विकास की सम्भावनाएं बढंे़गी। उन्होंने कहा कि झांसी में 4000 हेक्टेयर एवं यहां 263 हेक्टेयर भूमि का डिफेन्स काॅरीडोर स्थापना के लिए चयन कर लिया गया है। इससे यहां पर उद्योगों के विकास के साथ लोगों को बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

रक्षा उत्पादांे को बढ़ाने का कार्य किया जाएगा
केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कहा कि उत्तर प्रदेश के डिफेन्स कॉरिडोर की शीघ्र स्थापना के लिए केन्द्र सरकार कटिबद्ध है। इसके लिए हर महीने कुछ न कुछ कार्यक्रमों के आयोजन के साथ ही रक्षा उत्पादांे को बढ़ाने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यहां के उद्यमियों द्वारा जो भी रक्षा उपकरण तैयार किए जा रहे हैं, उसकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि उत्पादों की क्वालिटी के सम्बन्ध में मानसिकता में बदलाव लाने की आवश्यकता है, क्योंकि प्रोडक्ट गुणवत्तायुक्त होना चाहिए।

यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2018’ के आयोजन
प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के विकास की दिशा गत ‘यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2018’ के आयोजन के दौरान तय हो गयी थी, जिसमें 20 हजार करोड़ रुपए के डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरीडोर के स्थापना की घोषणा हुई थी। इसके तहत प्रदेश के 6 जनपद-अलीगढ़, कानपुर, आगरा, लखनऊ, झांसी एवं चित्रकूट शामिल हैं। औद्योगिक विकास मंत्री ने कहा कि बुन्देलखण्ड के विकास के लिए बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे बनाया जाएगा। प्रदेश में डिफेन्स काॅरीडोर को मूर्त रूप देने के लिए बाहर के उद्यमी यहां आने की इच्छा प्रकट कर रहे हैं। अगले 06 माह में प्रदेश में बहुत बड़ा निवेश होने जा रहा है। इस अवसर पर 19 कम्पनियों द्वारा रक्षा उत्पादों की प्रदर्शनी लगा

Ad Block is Banned