सीएम योगी का अखिलेश पर हमला, बोले-जो पिता-चाचा का नहीं हुआ वह जनता का क्या होगा

सीएम योगी का अखिलेश पर हमला, बोले-जो पिता-चाचा का नहीं हुआ वह जनता का क्या होगा

Ashish Kumar Pandey | Publish: Sep, 07 2018 08:21:36 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां भाजपा के पिछड़ा वर्ग सम्मलेन में बोल रहे थे।

 

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि जो अपने बाप और चाचा का नहीं हुआ वह जनता का क्या होगा। उन्होंने अखिलेश यादव की तुलना औरंगजेब से करते हुए कहा कि इतिहास दोहराता है। औरंगजेब ने अपने बाप को कैद कर दिया था। आज भी कोई अपने बेटे का नाम औरंगजेब नहीं रखता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां भाजपा के पिछड़ा वर्ग सम्मलेन में बोल रहे थे। सम्मलेन में केवट, निषाद और मल्लाहों को शामिल होने के लिए बुलाया गया था।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि निषादों के डीएनए में रामभक्ति मौजूद है। उन्होंने कहा किसी कंस या रावण भक्त से निषादों को सलाह लेने की जरूरत नहीं है। सीएम ने कहा कि प्रदेश के हर गरीब को शासन की योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। गरीब परिवारों को आवास और शौचालय दिया जा रहा है। हम रामराज्य की परिकल्पना की तरफ काम कर रहे हैं। अखिलेश ने गुरुवार को तंज कसते हुए कहा था कि 2019 के बाद योगी सीएम पद पर नहीं रहेंगे। शायद इसको लेकर सीएम योगी ने अखिलेश पर जोरदार हमला बोला है।
वहीं डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने सपा और बसपा पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछड़ा वर्ग सम्मेलन से सपा-बसपा में बेचैनी है। विपक्ष परेशान है कि पिछड़े और अनुसूचित जाति के लोग भाजपा के साथ हो गए हैं। वहीं अगड़ी जाति के लोग भी भाजपा के साथ हैं। सपा- बसपा पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए कुछ नहीं कर सकती। केवल भाजपा ही उनके विकास के लिए एकलौता विकल्प हैं।
डिप्टी सीएम ने इस दौरान बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि उनकी सरकार भगवान राम और महाराज निषादराज के गले मिलते हुए एक विशाल प्रतिमा लगवाएगी। कहा कि 60 फीसदी से ज्यादा लोगों का गोत्र कश्यप है, मैं भी कश्यप गोत्र का हूँ। उन्होंने कहा कि निषाद राज भी कश्यप हैं, लेकिन वे राम भक्त हैं।

Ad Block is Banned