जेलों में बढ़ते कोरोना संक्रमण से सीएम योगी चिंतित, कहा नये बंदियों को टेम्परोरी जेल में रोकें

- हर दिन मिल रहे नए पॉजिटिव
- कैदियों को अस्थाई जेल में रखने के निर्देश

By: Karishma Lalwani

Updated: 27 Jul 2020, 04:48 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की जेलों में कोरोना संक्रमण (Covid-19) तेजी से फैल रहा है। बलिया में 227 तो झांसी में 207 कैदी संक्रमित पाए गए हैं।जेल में संक्रमित कैदियों को अलग-अलग बैरकों में रखा गया है। उन्हें स्वास्थ्य विभाग के निदेर्शानुसार दवा और भोजन दिया जा रहा है। उधर, कैदियों में तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा है कि कैदियों को कुछ समय के लिए अस्थाई जेल में रखा जाए। उन्होंने कहा कि संक्रमण नियंत्रित करने के लिए यह उचित रहेगा। इससे अन्य कैदियों की सुरक्षा भी बनी रहेगी।

कोविड-19 का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई

मुख्यमंत्री ने कोविड संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य विभाग व प्रशासनिक अफसरों को अलर्ट किया है। उन्होंने कहा है कि जेलों में हर हाल में कोरोना के संक्रमण को रोका जाए। जेल में संक्रमण रोकने के लिहाज से तत्काल अस्थाई जेल बनाई जाए। इनमें नए कैदियों को कुछ समय रखने के बाद मुख्य जेल स्थानांतरित किया जाए। फोर्स व पुलिसकॢमयों को संक्रमण से बचाव की दिशा में भी कार्य हो। छुट्टी से वापस आने वाले पुलिसकॢमयों की जांच की जाए, सब ठीक होने पर ड्यूटी पर तैनात किया जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ संबंधित अफसर सख्त कार्रवाई करें। दो गज की दूरी बनाए रखना और बाहर निकलने पर मास्क पहनना आवश्यक है।

कंटेनमेंट जोन में भी रखें ध्यान

सीएम ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में भी पैनी नजर रखी जाए। कंटेनमेंट जोन में होमगार्ड, पीआरडी जवान, सिविल डिफेंस व एनसीसी के लोगों की सेवा लें ताकि सिविल पुलिस अपराध नियंत्रण कार्य में अधिक समय दे सकें। हालांकि पुलिस अधिकारियों की इस पर निगरानी रहे। मुख्यमंत्री ने अपराधियों पर नकेल कसने के अभियान को जारी रखने के भी संकेत दिए। उन्होंने कहा कि अगर कोई नियम का उल्लंघन करता पाया गया या कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ किया तो उसकी जेल में होगी। गिरोहबंद अपराध हो या अन्य सभी पर सख्ती बरती जाएगी।

पेड हॉस्पिटलों की मनमानी पर लगाम

संक्रमण को रोकने के लिए मुख्यमंत्री ने कोविड अस्पतालों पर निगरानी की बात कही। साथ ही पेड हॉस्पिटलों की जांच करने के निर्देश दिए ताकि कोई किसी तरह की मनमानी या मनमर्जी न कर सके।

कानपुर के 10 क्षेत्रों में 03 अगस्त तक संपूर्ण लॉकडाउन

कानपुर शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों पर नियंत्रण के लिए कानपुर नगर के 10 थाना क्षेत्रों में 31 जुलाई तक संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया गया है। जिलाधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने विश्व स्वास्थ्य संगठन, स्वास्थ्य विभाग, पुलिस और प्रशासनिक अफसरों की सिफारिश के बाद यह फैसला लिया है। जिलाधिकारी के आदेश के मुताबिक चकेरी, कल्याणपुर नौबस्ता, बर्रा, फीलखाना, गोविंद नगर, काकादेव, शहर कोतवाली, ग्वालटोली, स्वरूप नगर में सम्पूर्ण लॉकडाउन 31 जुलाई रात 10 बजे तक रहेगा। 31 जुलाई शुक्रवार को है। शासन के आदेशानुसार शनिवार व रविवार को भी इन थाना क्षेत्रों में पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। मतलब तीन अगस्त तक यहां पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। रविवार रात 10 बजे से इन थाना क्षेत्रों को पूरी तरह से लॉक कर दिया गया है, सिर्फ आवश्यक गतिविधियां ही जारी हैं।

कानपुर में चार हजार के करीब कोरोना संक्रमित

कानपुर में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 3844 है। इनमें से 1842 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि अब तक 173 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। जिले में 1819 एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।

ये भी पढ़ें: कोरोना काल में अस्पताल में भर्ती होने के लिए घंटों एम्बुलेंस में घूमती रही गर्भवती महिला

COVID-19
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned