scriptcm yogi ordered caste certificate will be given along with birth | UP: अब जन्म के साथ ही मिलेगा जाति प्रमाण पत्र, मुख्यमंत्री ने दिए कड़े निर्देश | Patrika News

UP: अब जन्म के साथ ही मिलेगा जाति प्रमाण पत्र, मुख्यमंत्री ने दिए कड़े निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश में अभी तक नवजात शिशु के जन्म पर केवल जन्म प्रमाण पत्र दिया जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। सभी नवजातों को जन्म के साथ ही जाति प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने और भी कई दिशा निर्देश जारी किए।

लखनऊ

Published: April 21, 2022 11:46:57 am

Caste Certificate of New born Babies: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि यूपी में हर नवजात के जन्म प्रमाण पत्र के साथ ही जाति प्रमाण पत्र भी बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि अभिभावकों द्वारा अप्लाई करने के 15 दिन के भीतर ही शिशु का जाति प्रमाण पत्र दिया जाएगा। बता दें कि सीएम ने इस बावत अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं, कि शिशुओं को जन्म प्रमाण पत्र के साथ ही जाति प्रमाण पत्र देने की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसके अलावा उन्होंने हर बेघर को घर देने के लिए 13 लाख परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण और 1.5 लाख परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत मकान देने के लिए काम शुरू करने के निर्देश भी दिए।
yogi-9-1.jpg
हर जिले में बने दो हाईटेक नर्सरी

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि मनरेगा के तहत हर जिले में दो हाईटेक नर्सरी की स्थापना की जाए। एक नर्सरी से 15 लाख पौधे तैयार होंगे। बरसात के पहले नालों को डी-सिल्ट कर लें। गांवों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था भी की जाए। वहीं ओडीएफ प्लस योजना के अनुरूप 5000 ग्रामों में कार्य शुरू किया जाए। सौ दिनों में ग्राम सचिवालय में सीएससी की सह-स्थापना के निर्देश जारी करें। पंचायत भवन में सीएससी के 750 अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए धनराशि जारी की जाए।
भ्रष्टाचार की शिकायतों पर लें एक्शन

सीएम ने तहसीलों से आ रहीं भ्रष्टाचार की शिकायतों पर यह भी कहा है कि इन शिकायतों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाए। इसके लिए स्पेशल पोर्टल बनाया जाएगा। इसी के साथ रोजगार देने के लिए भी सर्वे किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि तहसील प्रशासन को जिम्मेदार, पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त करना है। भ्रष्टाचार की शिकायतें प्राप्त करने के लिए पृथक पोर्टल बनाया जाए।
बुजुर्ग संतों के लिए नया बोर्ड लाने की तौयारी

गौरतलब है कि प्रदेश सरकार बुजुर्ग संतों, पुजारियों और पुरोहित के कल्याण के लिए नए बोर्ड का गठन करेगी। मुख्यमंत्री ने बुधवार को मंत्रिपरिषद के समक्ष धर्मार्थ कार्य विभाग के प्रस्तुतिकरण के दौरान यह निर्देश दिया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.