लॉकडाउन: शिक्षण संस्थानों समेत इन विभागों के कर्मचारी न करें फिक्र, नहीं कटेगा मानदेय, आदेश हुआ जारी

अप्रैल को वृद्धावस्था, निराश्रित महिला, दिव्यांगजन तथा कुष्ठावस्था पेंशन के 86.71 लाख लाभार्थियों को दो महीने की अग्रिम पेंशन की कुल 871.48 करोड़ की धनराशि ऑनलाइन दी गयी है.

By: Abhishek Gupta

Published: 18 Apr 2020, 06:25 PM IST

लखनऊ. सीएम योगी ने शनिवार की बैठक में शिक्षण संस्थानों, चिकित्सालयों, कार्यालयों में काम करने वाले अस्थाई कर्मचारियों, आउटसोर्सिंग कर्मियों को राहत दी है। सीएम योगी ने आदेश दिए कि लाॅकडाउन के कारण कार्य स्थल पर यदि उक्त कर्मचारी नहीं जा पा रहे, तो उनके मानदेय में कोई कटौती न की जाए। साथ ही कहा कि निजी क्षेत्र की औद्योगिक इकाइयों में काम करने वाले श्रमिकों एवं अन्य कर्मियों को भी लाॅकडाउन अवधि में मानदेय जरूर दिया जाए।

अपर मुख्य सचिव गृग अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा इस आपदा के समय में श्रमिकों, दिहाड़ी मजदूरों, निराश्रित व्यक्तियों तथा विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के परम्परागत कारीगरों आदि को 1-1 हजार रुपए की सहायता राशि के साथ-साथ खाद्यान्न उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गयी है। अब तक 13.51 लाख पंजीकृत निर्माण श्रमिकों को कुल 135.10 करोड़ रुपए उनके बैंक खाते में ट्रांसफर किए गए हैं।

सभी जिलाधिकारी तैयार करें टीम-

उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान कार्याें को जारी रखने के लिए सभी जिलाधिकारियों तो टीम गठित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारियों व मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को जनपद स्तर पर कोविड-19 के बचाव, उपचार व नियंत्रण कार्याें का प्रभावी पर्यवेक्षण करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश में अध्ययनरत विदेशी विद्यार्थियों की समस्याओं के समाधान के लिए नामित नोडल अधिकारी इन छात्र-छात्राओं के सम्पर्क में रहते हुए इनकी कुशल-क्षेम से सम्बन्धित दूतावास को अवगत कराते रहें। इसके अतिरिक प्रदेश सरकार द्वारा नामित नोडल अधिकारियों से नियमित फीडबैक प्राप्त किया जाए।

क्वारेंटाइन किया जाए यह लोग-

सीएम ने कहा- बाहर से आए लोगों के बारे में जिस स्थान पर जानकारी प्राप्त हो, ऐसे लोगों को वहीं क्वारंटीन किया जाए। हाॅट स्पाॅट क्षेत्र में यदि कोई मण्डी है तो उसे तत्काल शिफ्ट करें। मुख्यमंत्री ने शेष कार्मिकों के वेतन का जल्द से जल्द भुगतान कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने निजी औद्योगिक इकाइयों एवं व्यापारिक प्रतिष्ठानों के स्वामियों से आह्वान किया कि वे इस आपदा में मानवीयता एवं संवेदना का उदाहरण प्रस्तुत करते हुए अपने कर्मियों की पूरी मदद करें।

coronavirus
Show More
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned