शिक्षक दिवस के कार्यक्रम में CM योगी बोले- नौकरियां बहुत हैं, काबिल लोग नहीं मिल रहे

शिक्षक दिवस के कार्यक्रम में CM योगी बोले- नौकरियां बहुत हैं, काबिल लोग नहीं मिल रहे

Prashant Srivastava | Publish: Sep, 05 2018 04:32:06 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

शिक्षक दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में CM योगी बोले- नौकरियां बहुत हैं, काबिल लोग नहीं मिल रहे

लखनऊ. शिक्षक दिवस के मौके पर सीएम योगी ने कहा कि शिक्षा जगत में नौकरियों की कमी नहीं है लेकिन काबिल लोग ही नहीं मिल रहे हैं। लोकभवन में आयोजित शिक्षक सम्मान के कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी बोले कि 2 हजार पुलिस की भर्ती के लिए 22 लाख आवेदन और 68 हजार 500 शिक्षकों की भर्ती के लिए आवेदन में 41 हजार 556 ही पास हो पाए। शिक्षकों के लिए 97 हजार भर्तियां है लेकिन मेरिट के आधार पर ही चुनाव होगा कुछ लोग अपना सिर मुंडवा रहे हैं क्योंकि उन्हें बिना किसी कम्पीटिशन के वहां भर दिया जाए और फिर सम्मानित किया जाए। योगी ने ये भी कहा कि कई लोगों के पिछले जन्म के कर्म ही ऐसे होते हैं कि उन्हें भगवान ने कहा कि अगले जन्म जीवन भर धरना प्रदर्शन करते रहो। दरअसल बुधवार को माध्यमिक वित्तहीन शिक्षकों ने सरकार का विरोध करते हुए राजधानी में अपना सिर मुंडवाया। इससे पहले शिक्षा मित्र भी लखनऊ में सरकार के विरोध में अपना सिर मुंडवा चुके हैं।
अनुशासन होना बेहद जरूरी: सीएम योगी

सीएम योगी बोले एक अनुशासनहीन समाज कभी उज्ज्वल भविष्य का निर्माण नहीं कर सकता। एक शिक्षक 4 से 6 घण्टे अपने विद्यालय में समय देता है। यहां कोई व्यक्ति मंच पर ऐसा नहीं जो 12 से 14 घण्टे काम न करता हो अगर वो भी 4 से 6 घण्टे की औपचारिकता बना लेता तो माध्यमिक और उच्च शिक्षा की परीक्षाओं को एक साथ न करा पाते। 15 लाख ऐसे लोग थे जो परीक्षा में नहीं बैठे पहले माफियाओं ने अपनी पैठ बना रखी थी हाईस्कूल और इंटर के परिणाम एक दिन आ गए क्योंकि अधिकारियो ने मेहनत की। अब शासन की व्यवस्था बदल गई। जबतक हम निष्कर्ष तक न पहुंचे बैठक खत्म नहीं होती। कमेटियां बनाने की औपचारिकताएं बन्द हो गईं है।

 

yogi

डिप्टी सीएम ने गिनाईं उपलब्धियां

इस मौके पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने उलब्धियां गिनाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने 46 राजकीय डिग्री कॉलेजो की घोषणा की. 100 के आसपास विद्यालय और महाविद्यालय खोलने का लक्ष्य है। अब शिक्षकों को वीआरएस की अनुमति भी दे दी गई है। मकान भत्ते में वृद्धि कर दी हैे। लगभग 1600 के आसपास नए शिक्षक हमने महाविद्यालयो को दे दिए हैं। हमने ऑनलाइन ट्रांसफर का निवेदन करने की ट्रांसपैरेंसी की व्यवस्था की है। जल्द ही विद्यालयों, महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों को वाईफाई भी किया जाएगा । गोरखपुर में महायोगी गोरखनाथ शोधपीठ की स्थापना की गई है। खाली पदों को परमानेंट टीचरों से भरने की व्यवस्था हमने की है। रिक्त पदों को बढ़ाने और उसमें भर्ती प्रक्रिया भी शुरू हो गयी है। कानपुर के डीए वी कालेज में 5 करोड़ की लागत से सेंटर फॉर एक्सीलेंस बनाया जायेगा।पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की जन्मतिथि पर इस साल 25 दिसंबर को सरकार प्रदेश के स्व वित्त पोषित माध्यमिक विद्यालयों के अंशकालिक शिक्षकों को मुख्यमंत्री शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित करेगी।

उच्च शिक्षा विभाग के 3 शिक्षकों को 3 लाख रुपए के सरस्वती सम्मान 2018 ,उच्च शिक्षा के 6 शिक्षकों को 1.5 लाख के शिक्षक श्री सम्मान और माध्यमिक शिक्षा के 8 शिक्षकों को व बेसिक शिक्षा के 17 शिक्षकों को 25 हजार रुपए के राज्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया। राज्य शिक्षक पुरस्कार-2017 के लिये 17 बेसिक शिक्षकों को चयनित किया गया। उनके नाम-


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन शिक्षकों को किया सम्मानित

- अल्पा निगम- प्रधानाध्यापिका, प्राथमिक विद्यालय तिलौली, सरदारनगर, गोरखपुर
- आशुतोष आनंद- सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय, मियांगंज, दरियाबाद, बाराबंकी
- राम जनम सिंह- सहायक अध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय चकवाखुर्द, बसरेहर, इटावा
- मनीष वर्मा- सहायक अध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय दलीप पुरवा, शिक्षा क्षेत्र मनकापुर, गोंडा
- उमेश चंद्र राजपूत- सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय दुबरिया क्षेत्र, नरैनी, बांदा
- ऋतु जमाल- प्रधानाध्यापिका, प्राथमिक विद्यालय उसरू, मसौधा, फैजाबाद
- रवि प्रताप सिंह- प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय धौरहरा, शिक्षा क्षेत्र करनैलगंज, गोंडा
- कौसर जहां- प्रधानाध्यापिका, प्राथमिक विद्यालय फफूंडा-1, मेरठ
- शशि प्रभा सचान- सहायक अध्यापिका, पूर्व माध्यमिक विद्यालय भदेसा, सरवनखेडा, कानपुर देहात
- नीता जोशी- प्रधानाध्यापिका, प्राथमिक विद्यालय लखौरा, क्यारा, बरेली
- अनुज कुमार शर्मा- प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय मदन जुड़ी, बिसौली, बदायूं
- कृष्ण मुरारी उपाध्याय- सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय पठा (अंग्रेजी माध्यम), ललितपुर
- नीलम भदौरिया- प्रधानाध्यापिका, प्राथमिक विद्यालय पहरवारपुर, शिक्षा क्षेत्र मलवां, फतेहपुर
- वीरेंद्र सिंह- प्रधानाध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय, भरोसा, काकोरी, लखनऊ
- मुहम्मद इकबाल- प्रधानाध्यापक, मॉडल प्राथमिक विद्यालय, देवमी, वनकटी, बस्ती
- खुर्शीद हसन- सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय हस्तिनापुर, बड़ागांव, झांसी
- ओमबीर सिंह- सहायक अध्यापक, कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय गढ़ी श्याम, कांधला।

 

Ad Block is Banned