सोनिया-वरुण का पोस्टर लगाने पर कांग्रेस ने दो नेताओं को जारी किया नोटिस

पोस्टरों में वरुण गांधी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को दिखाया गया था और नारा लिखा था, "दुख भरे दिन बीते रे भैया, अब सुख आयो रे।" दोनों नेताओं, इरशादुल्लाह और बाबा अभय अवस्थी को अपने आचरण या कार्रवाई का सामना करने के लिए कहा गया है

By: Hariom Dwivedi

Updated: 13 Oct 2021, 04:06 PM IST

लखनऊ. प्रयागराज में भाजपा नेता वरुण गांधी के स्वागत में पोस्टर लगाने वाले कांग्रेस के दो नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। पोस्टरों में वरुण गांधी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को दिखाया गया था और नारा लिखा था, "दुख भरे दिन बीते रे भैया, अब सुख आयो रे।" दोनों नेताओं, इरशादुल्लाह और बाबा अभय अवस्थी को अपने आचरण या कार्रवाई का सामना करने के लिए कहा गया है।

आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में कई ट्वीट पोस्ट करने के बाद वरुण गांधी के भाजपा से कथित मोहभंग की खबरों से उत्तर प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ता काफी उत्साहित हैं। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता, (जिन्होंने नाम ना छापने की शर्त पर बात की) ने कहा, "यह बहुत अच्छा होगा, यदि वरुण गांधी कांग्रेस में शामिल हो जाएं और उन्हें मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया जाए। इससे कांग्रेस को कुछ ही दिनों में यूपी में राजनीतिक जीवन मिल जाएगा। उनके चचेरे भाइयों के साथ कोई टकराव नहीं होगा, क्योंकि वे राष्ट्रीय नेता हैं।"

अफवाहों को निराधार बता चुके हैं वरुण गांधी
वरुण गांधी पहले ही कांग्रेस में शामिल होने की अफवाहों को 'निराधार' बता चुके हैं। मेनका गांधी और वरुण गांधी दोनों को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल नहीं किया गया है, जिससे पार्टी में उनके भविष्य को लेकर कई अटकलें लगाई जा रही हैं।

Congress
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned