यूपी में प्रशासन की मिलीभगत से चल रहा है नकली शराब का कारोबार : अजय कुमार लल्लू

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने प्रयागराज में नकली शराब के पीने से हुई 9 लोगों की मौत पर जताया दुख, कहा- परिजनों ने को 10-10 लाख का मुआवजा दे सरकार

By: Hariom Dwivedi

Published: 17 Mar 2021, 07:02 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. प्रयागराज में नकली शराब के पीने से हुई 9 लोगों की मौत पर दुख जताते हुए यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने प्रदेश सरकार घेरा। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के नकारापन के चलते प्रदेश के अधिकांश जनपदों में पूर्ववर्ती सपा, बसपा के शासनकाल में शुरू हुए नकली शराब के अवैध व्यापार और उसके परिणामस्वरूप हुईं हजारों मौतों का सिलसिला भाजपा सरकार में न केवल अनवरत जारी है बल्कि और अधिक भयावह रूप धारण कर चुका है। पूरा प्रदेश अवैध शराब और शराब माफियाओं का हब बन चुका है। सत्ता के संरक्षण में नकली शराब के अवैध कारोबारी कुटीर उद्योग की तरह इस जानलेवा जहर को जलकुम्भी की तरह जिलों से लेकर गांवों, कस्बों तक फैला चुके हैं और सरकार इन माफियाओं के आगे बेबस और लाचार साबित हो रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने मांग की है कि नकली शराब से हुई मौतों पर मृतकों के परिजनों को दस-दस लाख रुपये आर्थिक मुआवजा सरकार प्रदान करें और सम्बन्धित जनपदों के डीएम और एसएसपी को निलम्बित करें।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नकली शराब से हो रहीं लगातार मौतों का यह खेल सत्ता के साये में अनवरत जारी है। हर एक घटना के बाद सरकार बड़े-बड़े दावे करती है लेकिन नतीजा सिर्फ ढाक के तीन पात तक सीमित रह जाता है। जिस प्रकार प्रयागराज में 9 लोगों की नकली शराब से मौतें हुई हैं वह भाजपा सरकार की अपराधियों और माफियाओं पर नकेल डालने के फर्जी दावे का खुलासा करती हैं। नकली शराब का यह कारोबार सत्तापक्ष के विधायक, मंत्री और कुछ अधिकारियों की शह पर फल-फूल रहा है। भाजपा के एक प्रभावशाली विधायक के सिण्डीकेट के आगे योगी सरकार और प्रशासन पूरी तरह बौना साबित हो रहा है। सरकार की अकर्मण्यता का आलम यह है कि राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज और मलिहाबाद क्षेत्र में दर्जनों मौतें हो चुकी हैं। शराब माफियाओं और इनसे जुड़े प्रभावशाली व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही न होने के चलते हजारों लोग अपनी जिन्दगियां गंवा चुके हैं और उप्र के अधिकांश जनपद नकली शराब के जहर के आगोश में आ चुके हैं।

कम थमेगा मौतों का सिलसिला
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद राजधानी लखनऊ सहित प्रयागराज, फतेहपुर, बाराबंकी, उन्नाव, हाथरस, गोरखपुर, कुशीनगर, मेरठ, मथुरा, बुलन्दशहर, बरेली, लखीमपुर आदि जिलों में हुईं नकली शराब से मौतों के लिए पूरी तरह योगी सरकार जिम्मेदार है। उन्होने कहा कि आखिर नकली शराब से हो रहीं मौतों का यह सिलसिला कब तक जारी रहेगा?

नकली शराब के कारोबारियों और सत्ता के संरक्षण : अजय लल्लू
अजय कुमार लल्लू ने कहा कि नकली शराब के कारोबारियों और सत्ता के संरक्षण का यह गठजोड़ इतना ताकतवर हो चुका है कि मुख्यमंत्री का आदेश भी उसके ठेंगे पर है। उन्होंने कहा कि विगत दिनों नकली शराब से हुई मौतों के बाद मुख्यमंत्री जी ने घोषणा की थी कि जिस जनपद में नकली शराब से मौतें होंगी, सीधे वहां के डीएम और एसपी जिम्मेदार होंगे। उन्होने कहा कि कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि जहां योगी जी खुले मंचों से माफियाओं और अपराधियों को चुनौती दे रहे हैं और अपनी पीठ थपथपा रहे हैं कि अपराधी अपनी जान की भीख मांगकर या तो जेल चले गये या तो प्रदेश छोड़ गये। आखिर यह कौन से लेाग हैं जिन्होने लगभग आधे उ0प्र0 के नकली शराब के आगोश में ले लिया है और सरकार उनके आगे बेबस और लाचार साबित हो रही है।


यह भी पढ़ें : लूटने के लिए सत्ता में आती हैं सपा, बसपा और कांग्रेस : स्वतंत्र देव सिंह

Congress
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned